AAP बोली ये मोदी लहर नहीं EVM लहर है, भगवंत मान बोले केजरीवाल करें आत्मचिंतन

नई दिल्ली:  दिल्ली के MCD चुनाव में करारी हार के बाद आम आदमी पार्टी ने एकबार फिर ईवीएम पर को जिम्मेदार ठहराया है। दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली में मोदी लहर नहीं है बल्कि ईवीएम लहर है। और जिस तरह से ईवीएम लहर चल रही है उसके बाद लोकतंत्र खतरे में है। गोपाल राय ने कहा कि जनता को भी इस बात का पता नहीं चल रहा है कि गड़बड़ी कैसे हो रही है।

इसे भी पढ़ें

AAP छोड़ेंगे कुमार विश्वास, कह दिया ‘पार्टी जाए तेल लेने, मुझे मतलब नहीं है’

दरअसल MCD चुनाव में आम आदमी पार्टी की करारी हार हुई है। इस चुनाव के नतीजे आने से पहले ही आम आदमी पार्टी के नेता गोपाल राय ने कह दिया था कि अगर ईवीएम की चली तो बीजेपी जीतेगी और अगर जनता की चली तो आम आदमी पार्टी जीतेगी।

इसे भी पढ़ें

सुकमा में नक्सलियों ने RAMBO के हथियार से किया था CRPF पर हमला

दिल्ली में पार्टी को मिली इस के बाद आम आदमी पार्टी के सांसद और पंजाब में आप के बड़े नेता भगवंत मान ने भी केजरीवाल पर निशाना साधा है। उन्होंने एक अखबार को दिये इंटर्व्यू में कहा कि ईवीएम को जिम्मेदार ठहराने से कुछ नहीं होगा। चुनाव में जीत हासिल करने के केजरीवाल आत्म चिंतन करें।

भगवंत मान ने कहा पंजाब विधानसभा चुनाव में हमारी पार्टी की तैयारी ऐसी थी जैसे कि हम मोहल्ला क्रिकेट खेलने जा रहे हों। उन्होंने कहा हमने बिना किसी चेहरे के पंजाब का चुनाव लड़ा। उसके बाद पार्टी ने दिल्ली से जरनैल सिंह को पंजाब भेज दिया। जिसकी वजह से पंजाब की जनता में सीएम को लेकर भ्रम की स्थिति बन गई। दरअसल ऐसी खबर भी आई थी कि भगवंत मान खुद को पंजाब में सीएम का दावेदार मान रहे थे।

इसे भी पढ़ें

पत्नी से हुई लड़ाई तो फेसबुक लाइव पर बेटी की हत्या कर खुदकुशी कर ली

यानि एक तरफ दिल्ली और पंजाब में हार के लिए आम आदमी पार्टी ईवीएम को जिम्मेदार बता रही है। दूसरी तरफ उन्हीं की पार्टी के नेता भगवंत मान केजरीवाल पर सवाल उठा रहे हैं। जिसमें वो केजरीवाल आत्म चिंतन करने की सलाह दे रहे हैं। भगवंत मान ने पार्टी की तरफ से ईवीएम पर उठाए जा रहे सवाल को निराधार बताया है।

दिल्ली में आम आदमी पार्टी के एक दूसरे नेता आशुतोष ने भी ईवीएम पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा बीजेपी ने दिल्ली MCD में कोई काम नहीं किया उसपर भ्रष्टाचार के आरोप लगे इसके बाद भी बीजेपी जीत गई। जबकि आम आदमी पार्टी ने मुफ्त में दवाई बांटी, मुफ्त इलाज के लिए मोहल्ला क्लीनिक खुलवाए, बिजली-पानी मुफ्त और सस्ता किया इसके बावजूद आम आदमी पार्टी हार गई। क्योंकि ईवीएम में गड़बड़ी की गई थी।

Loading...