Manish Sisodia

क्रांतिकारी फैसला- नर्सरी एडमिशन के लिए दिल्ली सरकार ने नई गाइडलाइन जारी की

क्रांतिकारी फैसला- नर्सरी एडमिशन के लिए दिल्ली सरकार ने नई गाइडलाइन जारी की




नई दिल्ली:  दिल्ली में नर्सरी एडमिशन को लेकर सरकार ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है। जिसमें सरकार ने नेबरहुड को काफी साफ तरीके से डिफाइन कर दिया है। अब डीडीए से जमीन लेकर स्कूल चलाने वाले 298 प्राइवेट स्कूलों को उसी गाइडलाइन के तहत नर्सरी में बच्चों का एडमिशन लेना होगा।

नई गाइडलाइन के मुताबिक अगर किसी स्कूल में नर्सरी में 400 सीटें हैं तो उनमें से 25 फीसदी सीटें EWS कोटे के तहत भरी जाएंगी। इसके बाद बची 300 सीटों में स्कूल सबसे पहले 1 किलोमीटर तक के दायरे में आने वाले बच्चों का एडमिशन लेगा। अगर उसके बाद भी सीटें बची रहती हैं तो 1 से 3  किलोमीटर के दायरे में आने वाले बच्चों को एडमिशन देना होगा। अगर इसके बाद भी सीट बच जाती है तो 3 से 6 किलोमीटर के रेंज में रहने वाले बच्चों को एडमिशन देना होगा। इसके बाद अगर सीट बचती है तो 6 किलोमीटर से बाहर के रेंज वाले बच्चों को स्कूल एडमिशन दे सकते हैं।

nursery-guideline

nursery-guideline-2

नेबरहुड से जुड़ी फाइल 23 दिसंबर 2016 को उप राज्यपाल ऑफिस के पास भेजी गई थी। जिसे अब मंजूरी मिल गई है। इसके बाद अब वो 298 प्राइवेट स्कूल अपनी मनमानी नहीं कर पाएंगे जिन्हों डीडीए से जमीन लेकर स्कूल बनाई है।

Loading...

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.