दिल्ली सरकार AAP से वसूलेगी 18 करोड़ रुपये!

दिल्ली: सरकारी पैसे पर बेहिसाब विज्ञापन देकर आम आदमी पार्टी फंस गई। अब केंद्र सरकार की एक कमेटी ने दिल्ली सरकार को आम आदमी पार्टी से 18 करोड़ 64 लाख रुपये वसूलने का आदेश दिया है। कंटेंट रेगुलेशन कमेटी ने आम आदमी पार्टी को तमाम विज्ञापनों पर खर्च की गई रकम को सरकारी खजाने में जमा कराने के आदेश दिये हैं।

दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष अजय माकन ने दिल्ली सरकार के बेहिसाब विज्ञापन के खिलाफ शिकायत की थी। जिसके बाद माकन की उस शिकायत की जांच की गई और जांच में पाया गया कि आम आदमी पार्टी ने सुप्रीम कोर्ट के दिशा निर्देश का उल्लंघन किया है।

दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने दिशा निर्देश दिया था जिसके मुताबिक जनता के पैसों को किसी राजनीतिक व्यक्ति या पार्टी की छवि चमकाने के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकता। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद केंद्र सरकार ने निगरानी के लिए तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया था। जो सरकारी विज्ञापनों में होनेवाले सुप्रीम कोर्ट के दिशानिर्देशों के उल्लंघन की जांच करती है। कमेटी ने 6 मामलों में दिल्ली सरकार को दिशा निर्देश उल्लंघन का दोषी पाया है। जिसके बाद दिल्ली सरकार को आम आदमी पार्टी से सरकारी पैसे की फिजूलखर्ची कर, नियमों को तोड़कर, जनता के पैसे को अपने निजी फायदे के लिए इस्तेमाल कर, अपने काम का प्रचार करने की वजह से 18 करोड़ 64 लाख की वसूली के आदेश दिये हैं।

Loading...

Leave a Reply