मुआवजा मांगने पर अंकित के घर से चल दिये सीएम केजरीवाल, देखें वीडियो

नई दिल्ली:  दिल्ली के ख्याला इलाके में अंकित सक्सेना की तेरहवीं पर शोक सभा का रखी गई थी। जिसमें शामिल होने के लिए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल भी पहुंचे थे। उस शोक सभा में कुछ ऐसा  हुआ कि अंकित के पिता को कहना पड़ा कि मिस्टर केजरीवाल हमारे साथ कोई गेम ना कर देना। इस शोक सभा के एक वीडियो कपिल मिश्रा ने ट्वीटर पर शेयर किया है। जिसे देखने के बाद पूरा माजरा समझ में आ जाता है।

कपिल मिश्रा ने कहा दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल अंकित सक्सेना के शोक सभा में शामिल होने और उनके परिवार से मिलने उनके घर गए थे। लेकिन वहां उनका जो व्यवहार रहा वो आपत्तिजनक है।

कपिल मिश्रा ने कहा अंकित के घरवालों ने जब कहा कि जीवनयापन मुश्किल हो रहा है, आप एक सहायता राशि की घोषणा कीजिये। तो ये सुनते ही सीएम वहां से उठकर चल दिये। अंकित के पिता पीछे से उन्हें पुकारते रहे। अंत में उन्हें कहना पड़ा कि मेरे साथ गेम मत खेलो। यह बहुत अपमानजनक है। क्या मुख्यमंत्री वहां उनका अपमान करने गए थे। शोक सभा में ऐसे नहीं जाया जाता।

इस वीडियो को शेयर करते हुए कपिल मिश्रा ने लिखा है इसे देखने के बाद आप आज रात सो नहीं सकेंगे। ये देश के मजहब की राजनीति का सबसे गंदा चेहरा हैं। अपने ट्वीट में कपिल मिश्रा ने एमएम खान और तंजीम अहमद का भी जिक्र किया है। इसी वीडियो में केजरीवाल के उस मुआवजे की घोषणा को भी दिखाया गया है जिसमें केजरीवाल ने एमएम खान के परिजनों को 1 करोड़ रुपये की सहायता राशि दिल्ली सरकार की तरफ से दी थी।


लेकिन जब अंकित के परिजनों ने मुआवजे की बात की तो सीएम वहां से उठकर चल दिये। अंकित एक मुस्लिम लड़की से प्यार करता था। और उससे शादी करने जा रहा था। लेकिन इसकी खबर लड़की के घरवालों को लग गई और लड़की के पिता ने अंकित की सरेआम गला रेतकर हत्या कर दी थी। चुकी मामला हिंदू-मुस्लिम का है शायद इसलिए केजरीवाल ने तुष्टिकरण की राजनीति का परिचय दिया है। कम से कम अंकित का दुखी परिवार तो यही मान रहा है।

Loading...