arvind-kejriwal punjab election

चुनाव आयोग का ब्रैंड ऐंबैसडर बनना चाहते हैं CM अरविंद केजरीवाल!

चुनाव आयोग का ब्रैंड ऐंबैसडर बनना चाहते हैं CM अरविंद केजरीवाल!




नई दिल्ली: गोवा में चुनाव प्रचार के दौरान केजरीवाल ने रिश्वत वाली टिप्पणी की थी। जिसके बाद चुनाव आयोग ने सख्त चेतावनी के साथ दिल्ली के सीएम और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने नोटिस भेजा था। सीएम अरविंद केजरीवाल ने चुनाव आयोग के उस नोटिस का लिखित जवाब दिया है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि आयोग उन्हें अपना ब्रैंड ऐंबैसडर बना ले।

केजरीवाल ने अपने जवाब में लिखा है चुनाव आयोग पिछले 70 सालों से चुनाव में पैसों के इस्तेमाल को रोकने की नाकाम कोशिश कर रहा है। आगे केजरीवाल ने लिखा ‘मेरे इस बयान से कि दूसरी पार्टी वाले पैसे देंगे ले लेना लेकिन वोट झाड़ू को देना’ से रिश्वत खोरीबंद होगी। उन्होंने कहा इस बयान को अगर चुनाव आयोग अपना ले और इसका खूब प्रचार करे तो दो साल में सभी पार्टियां पैसा बांटना बंद कर देंगी।

arvind kejriwal tweetअपने जवाब में केजरीवाल ने दिल्ली विधानसभा चुनाव का भी जिक्र किया है। उन्होंने लिखा है मेरे बयान का असर वहां देखने को मिला था। लोगों ने बीजेपी और कांग्रेस से पैसा लिया लेकिन वोट आम आदमी पार्टी को दिया। अगली बार से दोनों पार्टियां दिल्ली में पैसा बांटना बंद कर देंगी क्योंकि उनको लगेगा कि पैसा बांटने से कोई फायदा नहीं हुआ।

दरअसल गोवा में रिश्वत वाले बयान पर चुनाव आयोग ने दिल्ली के सीएम और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल को कड़ी फटकार लगाई थी। आयोग ने कहा था अगर भविष्य में दोबारा ऐसी गलती होगी तो आम आदमी पार्टी की मान्यता निलंबित या खत्म कर दी जाएगी। चुनाव आयोग ने केजरीवाल को अपने भाषण में संयम बरतने को कहा था।

Loading...

Leave a Reply