मैं भारत का बेटा हूं, धर्मनिर्पेक्षता में भारत जैसा कोई दूसरा देश नहीं-दलाई लामा

नालंदा/बिहार: बिहार के नालंदा में मंच से तिब्बती बौद्ध धर्म गुरु दलाई लामा ने भारत को लेकर एक बड़ी बात कह दी। दलाई लामा ने खुद को सन ऑफ इंडिया बताते हुए कहा कि मैं 58 साल से भारत में रह रहा हूं इसलिए मैं भारत का बेटा हूं। उन्होंने कहा धर्मनिर्पेक्षता के मामले में कोई भी देश भारत जैसा नहीं है।




उन्होंने आगे कहा जब मैं तिब्बत में था तो मेरे विचारों का दायरा काफी संकरा था। जब मैं अपनी जमीन छोड़कर भारत आया तो तिब्बत और पूरी दुनिया को लेकर एक विस्तृत नजरिया विकसित करने में कामयाब हो पाया। आज मैं जो कुछ भी हूं नालंदा से मिले विचारों की वजह से ही हूं। उन्होंने कहा इंसानों में सहिष्णुता का गुण विकसित करने में अच्छी शिक्षा मददगार होती है।

दलाई लामा ने शिक्षा के पारंपरिक तरीकों की वकालत की। उन्होंने कहा कि बैद्ध धर्म एकता और शांति का प्रतीक है।

Loading...