साइक्लोन तितली से सावधान, ओडीशा में रेड अलर्ट, झारखंड में भी होगा असर

नई दिल्ली:  चक्रवाती तूफान तितली तेजी से ओडीशा- आंध्र प्रदेश के तटीय इलकों की तरफ बढ़ रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक साइक्लोन तितली गुरुवार सुबह साढ़े पांच बजे ओडीशा के तट से टकराएगा। जिसे देखते हुए ओडीशा में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है। इस दौरान राज्य के कुछ इलाकों में भारी बारिश का भी अनुमान लगाया गया है। साइक्लोन तितली के इस खतरनाक रुप को देखते हुए ओडीशा सरकार ने रेड अलर्ट की चेतावनी जारी की है।

ओडीशा में सावधानी बरतते हुए सभी स्कूल, कॉलेज बंद कर दिये गए हैं। मौसम विभाग के मुताबिक इस साइक्लोनिक हवा की गति ओडीशा के दक्षिणी तटीय इलाके में 100 किलोमीटर प्रति घंटा और उत्तरी इलाके में 75 किलोमीटर प्रति घंटा रहने का आनुमान है।


तितली 11 और 12 अक्टूबर को प्रचंड रुप ले सकता है। इससे आंध्र प्रदेश का कलिंगापट्टनम, गोपालपुर, कटक, पूरी, भुवनेश्वर, कोलकाता समेत तटीय इलाकों में ज्यादा खतरा है। इसलिए यहां लोगों को विशेष सावधानी बरतने की सलाह दी गई है।

साइक्लोन तितली का केंद्र ओडाशा का गोपालपुर से दक्षिण पूर्व 530 किलोमीटर और आंध्र प्रदेश के पूर्वी दक्षिण पूर्व में कलिंगपट्टनम के बीच स्थित है। ओडीशा में अबतक 1000 लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है।

तितली का असर झारखंड में भी दिख सकता है। झारखंड में पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम, सरायकेला, खूंटी, खरसावां देवघर, दुमका, पाकुड़, साहेबगंज में असर दिख सकता है। यहां 12-13 अक्टूबर को कहीं भारी और कहीं बहुत भारी बारिश हो सकती है। हवा की गति 12-15 किलोमीटर प्रति घंटा रह सकती है।

Loading...

Leave a Reply