CONGRESS REMOVES DIGVIJAY SINGH AS INCHARGE

गोवा-कर्नाटक से दिग्विजय सिंह की छुट्टी, मध्यप्रदेश कांग्रेस ने भी हटाने की मांग की

गोवा-कर्नाटक से दिग्विजय सिंह की छुट्टी, मध्यप्रदेश कांग्रेस ने भी हटाने की मांग की

नई दिल्ली:  गोवा और कर्नाटक के प्रभारी के पद से दिग्विजय सिंह की छुट्टी कर दी गई है। माना जा रहा है सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद गोवा में सरकार बनाने में नाकाम रहने के बाद पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उन्हें गोवा कांग्रेस प्रभारी के पद से हटाने का फैसला किया।

गोवा और कर्नाटक के प्रभारी पद से हटाए जाने के बाद दिग्विजय सिंह ने कहा मैं इस बात से खुश हूं कि आखिरकार राहुल जी ने नई टीम चुन ली। मैं पार्टी और नेहरू परिवार के प्रति वफादार रहा हूं और उन लोगों ने मुझे जिम्मेदारी दी है, उसके लिए मैं उनका आभारी हूं।

दिग्विजय सिंह के खिलाफ मध्यप्रदेश में भी आवाज उठने लगी है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी ने मांग की है कि दिग्विजय सिंह को मध्य प्रदेश से हटाकर तमिलनाडु भेजा जाए और मध्य प्रदेश की जिम्मेदारी ज्योतिरादित्य सिंधिया को दी जाए। सत्यव्रत चतुर्वेदी ने कहा दिग्विजय सिंह एमपी का प्राण छोड़ें। तभी कांग्रेस का कुछ भला होगा।

गोवा में सरकार बनने में नाकाम रहने के बाद गोवा कांग्रेस में भी दिग्विजय सिंह के खिलाफ नाराजगी थी। उनका कहना था कि सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद दिग्विजय सिंह की वजह से ही हम राज्य में सरकार नहीं बना सके। गोवा बीजेपी के प्रभारी नितिन गडकरी ने भी चुटकी लेते हुए कहा था दिग्विजय सिंह गोवा के बीच पर घूम रहे थे और हम सरकार बना रहे थे। इसके लिए गडकरी ने दिग्विजय सिंह का धन्यवाद भी किया था।

Loading...

Leave a Reply