कांग्रेस का घोषणापत्र जारी राहुल बोले ‘गरीबी पर वार 72 हजार’

नई दिल्ली:  लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। इस घोषणा पत्र में कांग्रेस ने गरीब, किसान, बेरोजगारी जैसे मुद्दों को ऊपर रखा है। इस घोषणापत्र में 72000 रुपये सालाना देनेवाली न्याय स्कीम का भी जिक्र है। कांग्रेस ने अपने इस घोषणापत्र को जन आवाज नाम दिया है। इसके कवर पेज पर लिखा गया है हम निभाएंगे। घोषणापत्र जारी करने के मौके पर मंच पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, सोनिया गांधी, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह समेत कांग्रेस के दिग्गज नेता मौजूद थे।

इस मौके पर राहुल गांधी ने कहा घोषणापत्र में पांच बड़े विचार हैं। पहला बड़ा विचार है न्याय का विचार। प्रधानमंत्री ने कहा कि सबके खाते में 15 लाख आएंगे, जो कि झूठ है। मैंने वहीं से बात पकड़ी और अपनी घोषणापत्र कमेटी से कहा मुझे ऐसा नंबर बताइये जो सरकार गरीबों के खाते में सीधे पैसा डाल सकती है। उन्होंने बताया कि 72,000 सालाना, ये 72,000 गरीबी पर वार है। एक साल में 72,000 यानि पांच साल में 3 लाख 60 हजार रुपये किसानों और गरीबों की जेब में सीधा जाएगा।

दूसरा कदम है रोजगार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 2 करोड़ रोजगार की बात कही वो भी झूठ है। मैंने अपनी कमेटी से कहा कि इसकी सच्चाई बताइये। उन्होंने बताया कि 22 लाख सरकारी पद खाली पड़े हैं। ये पद मार्च 2020 तक भरे जा सकते हैं। 10 लाख युवाओं को ग्राम पंचायत में रोजगार देगी। हम मनरेगा को 150 दिन गारंटीड करना चाहते हैं। हम मनरेगा को 100 से बढ़ाकर 150 करना चाहते हैं। तीन साल के लिए युवाओं को बिजनस शुरु करने के लिए किसी से कोई इजाजत नहीं लेनी होगी।

राहुल ने कहा राजस्थान, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और पंजाब में हमने किसान का कर्जा माफ किया। जैसे रेलवे का बजट होता है हमारा मानना है कि उसी तरह से किसान का बजट होना चाहिए। देश के किसान को मालूम होना चाहिए कि उनको कितना पैसा मिल रहा है। उसकी एमएसपी कितनी बढ़ाई जा रही है। राहुल ने कहा घोषणापत्र में हमने निर्णय लिया है कि किसान अगर कर्जा न दे पाए तो वह आपराधिक नहीं बल्कि सिविल मामला हो।

राहुल ने घोषणा पत्र पढ़ते हुए कहा जीडीपी का 6 फीसदी पैसा देश की शिक्षा व्यवस्था पर दिया जाएगा। मोदी सरकार ने इसे कम करने का काम किया था। गरीब से गरीब व्यक्ति को सबसे बेहतर स्वास्थ्य सेवा मिले इसकी व्यवस्था की जाएगी। आंतरिक और बाह्य सुरक्षा पर आप कांग्रेस की नीति जानते हैं, बीजेपी की नीतियों से नफरत बढ़ रही है।

(Visited 4 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *