अहमद पटेल ने सोनू निगम का किया समर्थन, सोनू ने कहा अपनी बात पर कायम हूं

नई दिल्ली:  गायक सोनू निगम ने जब से ट्वीटर के पर लाउडस्पीकर के जरिये अजान पर अपना गुस्सा जताया है उसके बाद इसपर एक बहस छिड़ गई है। कोई इसे सही कह रहा है तो कोई इसे धार्मिक भावना को आहत करनेवाला बता रहा है। लेकिन अब कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने सोनू निगम का समर्थन किया है।

अहमद पटेल ने एक ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने लिखा अजान नमाज का अहम हिस्सा है। आधुनिक तकनीक वाले आज के दौर में लाउडस्पीकर्स नहीं। अहमद पटेल ने इस ट्वीट का मतलब ये भी है कि वो भी सोनू निगम की बात से सहमत हैं। अहमद पटेल के ट्वीट का मतलब ये भी निकलता है कि नमाज  लिए अजान जरुरी है। लेकिन ये जरुरी नहीं कि अजान में लाउडस्पीकर का इस्तेमाल किया ही जाए।

अहमद पटेल के ट्वीट पर सोनू निगम ने लिखा संवेदनशील इंसान उनकी बातों को समझ रहा है। आदरणीय अहमद पटेल। मैंने आरती या अजान के बारे में बात नहीं कही। मैंने केवल उसमें लाउडस्पीकर के इस्तेमाल पर आपत्ति जताई है।

https://twitter.com/sonunigam/status/854234431879430144

 

सोनू निगम में लाउडस्पीकर वाले बयान पर एक बार फिर ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने लिखा है कि वो अपने बयान पर कायम हैं। उन्होंने कहा मंदिर या मस्जिद पर लाउडस्पीकर लागने की इजाजत नहीं मिलनी चाहिए।

https://twitter.com/sonunigam/status/854232105009561600

अहमद पटेल कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार हैं। सोनू निगम ने सोमवार को एक के बाद एक कई ट्वीट किये थे। जिसमें उन्होंने नमाज में लाउडस्पीकर के इस्तेमाल पर गुस्सा जाहिर किया था। सोनू ने ट्वीट में लिखा था कि भगवान सबको खुश रखे। वो मुस्लिम नहीं हैं तो मस्जिद की अजान की आवाज से उनको क्यों रोज सुबह उठना पड़ता है। सोनू ने ये भी लिखा कि कबतक हमलोगों को ऐसी धार्मिक रीतियों को जबरदस्ती ढोना पड़ेगा।

सोनू निगम के इस ट्वीट पर तरह तरह की प्रतिक्रिया भी आनी शुरु हो गई। जिसमें से कुछ में निगम की इस बात का समर्थन किया गया तो कुछ में विरोध। इसी बीच सोनू ने एक और ट्वीट किया। जिसमें उनके पहले ट्वीट पर उठाए जा रहे सवाल के जवाब में सोनू ने कहा जब मोहम्मद ने इस्लाम की स्थापना की थी, तब बिजली नहीं थी। फिर एडिशन के आविष्कार के बाद ऐसे चोंचलों की क्या जरुरत है। सोनू निगम ने ऐसी बातों को गुंडागर्दी बताते हुए कहा वह मंदिर या गुरुद्वारे के भी इस कदम को सपोर्ट नहीं करते कि बिजली का इस्तेमाल करके वो सुबह सुबह किसी की नींद खराब करें।

https://twitter.com/sonunigam/status/853761583666806784?ref_src=twsrc%5Etfw&ref_url=http%3A%2F%2Faajtak.intoday.in%2Fstory%2Fsonu-nigam-tweet-on-azaan-masjid-muslim-bollywood-singer-controversy-1-923886.html

सोनू निगम के इस ट्वीट ने एक नई बहस की शुरुआत कर दी। जिसमें कई लोग खुद को सोनू निगम का फैन बता रहे हैं लेकिन उनकी इस पर नाराजगी भी जता रहे हैं। तो कई लोगों ने इसपर रोक की मांग भी की है।

अभिनेता एजाज खान ने भी सोनू निगम के ट्वीट पर नाराजगी जताई थी। उन्होंने कहा था कि वो अबतक सोनू निगम की काफी इज्जत करते थे। लेकिन जो उनके धर्म की इज्जत नहीं करता वो भी उनकी इज्जत नहीं करेंगे। एजाज खान ने हाल ही में काउ लेदर की बनी बेल्ट पर बयान दिया था। जिसमें उन्होंने पीएम मोदी और सीएम योगी के लिए आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया था।

समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने कहा था सोनू निगम जैसे नाचने गाने वालों को मस्जिद से दूर चले जाना चाहिए। एकांत में वो अच्छे से रियाज कर सकेंगे।

Loading...