manoj tiwari and vijay goel

दिल्ली बीजपी में शीतयुद्ध, तिवारी vs गोयल की लड़ाई में धर्मसंकट में पार्षद

दिल्ली बीजपी में शीतयुद्ध, तिवारी vs गोयल की लड़ाई में धर्मसंकट में पार्षद

नई दिल्ली:  दिल्ली बीजेपी में मनोज तिवारी और विजय कोयल के बीच चल रहे शीत युद्ध में नए नवेले पार्षद फंस गए हैं। 16 मई को गोयल के समारोह में शामिल होनेवाले पार्षदों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। जिसमें उनसे पूछा गया है कि पार्टी की तरफ से मना करने के बावजूद वो क्यों गोयल के समारोह में शामिल हुए?

पार्टी ने पार्षदों के इस कदम को अनुशासनहीनता बताया है और जल्द नोटिस का जवाब देने को कहा गया है। साथ ही इन पार्षदों को निगम में बड़ी जिम्मेदारी देने से भी मना किया गया है। तिवारी और गोयल के बीच मनमुटाव तो काफी दिनों से था लेकिन नए पार्षदों के सम्मान में केंद्रीय मंत्री विजय गोयल आवास पर आयोजित समारोह के बाद दोनों नेताओं की खींचतान सामने आ गई।

विजय गोयल के समारोह में बीजेपी सांसद प्रवेश राणा और रमेश विधूड़ी भी शामिल हुए थे। उसी समारोह में वो 50 पार्षद भी शामिल हुए जो हाल ही में चुनकर आए थे। गोयल के समारोह को लेकर दिल्ली बीजेपी के महासचिव ने पहले ही पार्षदों को जानकारी दे दी थी कि गोयल प्रदेश अध्यक्ष की मर्जी के खिलाफ समारोह कर रहे हैं। इसलिए उसमें पार्षद शामिल न हों।

पार्टी की तरफ से गोयल के समारोह में जानेवाले पार्षदों से पूछा गया है कि आखिर ऐसी क्या जरुरत थी कि मना करने बावजूद वो गोयल के आवास पर आयोजित समारोह में शामिल हुए।

Loading...

Leave a Reply