25 दिसंबर को नोएडा में पीएम मोदी और सीएम योगी से होगी इंसाफ की मांग

25 दिसंबर को नोएडा में पीएम मोदी और सीएम योगी से होगी इंसाफ की मांग

नई दिल्ली:  25 दिसंबर को दिल्ली मेट्रो एक नई शुरुआत करने जा रही है। दिल्ली मेट्रो मैजेंटा लाइन की शुरुआत करेगी। जिसे हरी झंडी खुद पीएम मोदी दिखाएंगे। इस मौके पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे। जाहिर तौर पर उनके हाथ में भी हरी झंडी होगी। इस खास कार्यक्रम पर सभी की नजर रहेगी। लेकिन इस तस्वीर के बगल में एक और वाक्या होगा। जिसकी तस्वीर बेहद ही बदरंग और उस तस्वीर में दिखने वाले लोगों की आवज बेहद ही तड़पती हुई होगी।

ये वो लोग होंगे जिन्होंने अपनी जिंदगी की कमाई एक घर खरीदने में लगा दी। लेकिन सालों बीत जाने के बाद भी उन्हें घर नहीं मिला। आम्रपाली, जेपी जैसे विश्वसनीय बिल्डर पर भरोसा दिखाते हुए इन्होंने नोएडा-ग्रेटर नोएडा में अपना घर बुक कराया। इन्हें शुरुआत में एक निश्चित समय भी दिया गया था घर की चाबी सौंपने के लिए। लेकिन वो समय सीमा कब की खत्म हो चुकी है। बिल्डर की तरफ से कोई जवाब नहीं मिल रहा है।

परेशान लोग महीनों तक सड़क किनारे अपना प्रदर्शन करते रहे। लेकिन उनकी आवाज लखनऊ तक नहीं पहुंची। अथॉरिटी पर इनका आरोप है कि वो जानबूझ कर इनकी मांग को अनसुना कर रही है। शनिवार को सीएम योगी के नोएडा दौरे से इन्हें उम्मीद थी। लेकिन अथॉरिटी ने जिस तरह का रूख दिखाया उससे फ्लैट बायर्स को निराशा के सिवाय कुछ नहीं मिला। फ्लैट बायर्स का आरोप है कि पीएम मोदी के नोएडा आगमन से ठीक पहले आनन फानन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्राधिकरण की उपस्थिति में होम बायर के साथ बुलाई गई मीटिंग न सिर्फ एक छलावा था, बल्कि आज इसके पीछे प्राधिकरण की साजिश का भी खुलासा हुआ।

अगले पेज पर जाने के लिए नीचे स्क्रॉल करें

Loading...