योगी के स्वामी बोले ‘मुसलमान हवस मिटाने के लिए देते हैं तीन तलाक’

लखनऊ:  यूपी सरकार में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने तीन तलाक पर बड़ा बयान दिया है। स्वामी ने कहा है कि मुसलमान केवल अपनी हवस मिटाने के लिए तीन तलाक देते हैं। उन्होंने कहा कई महिलाओं के साथ संबंध बनाने के लिए ही वो पत्नी को छोड़ते हैं और दूसरी शादी करते हैं। उन्होंने कहा बीजेपी मुस्लिम महिलाओं के साथ खड़ी है। स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा तीन तलाक का कोई आधार नहीं है।

स्वामी प्रसाद मौर्य ने ये बयान ऐसे वक्त में दिया है जब कई मुस्लिम महिलाएं तीन तलाक का विरोध कर रही हैं। और सरकार से तीन तलाक खत्म करने की मांग कर रही हैं। हाल के दिनों में ही तलाक के अनगिनत ऐसे मामले सामने आ चुके हैं जिसमें किसी को व्हाट्सअप पर, किसी को फोन पर, किसी को चिट्ठी लिखकर तो किसी को एक पुर्जी पर तीन तलाक दिया गया है।

पीएम मोदी ने भी मुस्लिम समाज से अपील की है कि वो तीन तलाक का राजनीतिकरण न होने दें। मुस्लिम महिलाओं को भी अपनी बात कहने का हक है। महिलाओं के हक के लिए लोग आगे आएं। उन्होंने कहा हमें भारत की परंपरा पर भरोसा है। मुस्लिम समाज के लोग ही इसका हल निकालेंगे। समाज के भीतर से ही सुधार लाएगा मुस्लिम समाज। मुस्लिम समाज तीन तलाक पर लड़ाई लड़ेगा और दुनिया के मुसलमानों के सामने एक मिसाल पेश करेगा।

देश के अलग अलग हिस्सों से तलाक के कई ऐसे मामले सामने आ चुके हैं जिसमें बिना किसी तरह का कारण बताए तीन तलाक दिया गया है। कई मुस्लिम महिलाओं का कहना है कि बेटी होने पर उन्हें तलाक दे दिया गया। कई महिलाओं का ये आरोप भी रहा है कि उनके पति किसी और महिला को चाहते थे इसलिए उसे तीन तलाक दिया गया।

लखनऊ और गोरखपुर में लगने वाले जनता दरबार में भी रोजाना मुस्लिम महिलाएं तीन तलाक की शिकायत लेकर पहुंच रही हैं। उनकी मांग है कि तीन तलाक को खत्म किया जाए और उनके साथ इंसाफ किया जाए। सरकार भी कह चुकी है कि तीन तलाक के मामले पर वो मुस्लिम महिलाओं के दर्द को समझ रही है। खुद पीएम मोदी भी कह चुके हैं कि तीन तलाक की वजह से मुस्लिम महिलाएं तकलीफ में हैं। सीएम योगी भी तीन तलाक को गलत बता चुके हैं।

Loading...