गोरखपुर BRD अस्पताल के निरीक्षण के बाद सीएम योगी ने दिये सख्त आदेश

लखनऊ:  गोरखपुर के BRD अस्पताल में 64 बच्चों की मौत के बार सीएम योगी आदित्यनाथ अस्पताल के निरीक्षण करने गोरखपुर पहुंचे। उनके केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा भी थे। सीएम योगी ने अस्पातला का निरीक्षण करने के बाद पत्रकारों से बात की। सीएम योगी ने इस मौके पर कई बड़ी बातें कही। सीएम ने कहा इस पूरे मामले की जांच की जाएगी और दोषी बख्शे नहीं जाएंगे।

सीएम योगी ने कहा BRD अस्पताल में हुई बच्चों की मौत से जितनी तकलीफ उन्हें पहुंची है उतनी किसी और को नहीं हुई होगी। उन्होंने कहा इस घटना से पीएम मोदी भी चिंतित हैं इसलिए उन्होंने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा को यहां भेजा है। पीएम मोदी ने वरिष्ठ चिकित्सकों का एक दल गोरखपुर भेजा है। वो शनिवार को ही यहां आ चुके हैं। सीएम योगी ने इंसेफेलाइटिस, चिकनगुनिया और कालाजार जैसी बीमारियों का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि 9 अगस्त को गोरखपुर प्रवास के दौरान उन्होंने इंसेफेलाइटिस, चिकनगुनिया और कालाजार जैसी बीमारियों पर अधिकारियों से बात की थी और उनसे पूछा था कि उनकी आवश्यकता क्या है और क्या उन्हें किसी तरह की समस्या है। लेकिन ऑक्सीजन आपूर्ति से जुड़ा मुद्दा उनके संज्ञान में नहीं लाया गया। उन्होंने कहा 7 अगस्त को ही पैसे प्रिंसिपल के अकाउंट में आ चुका था। फिर 9 अगस्त तक उसका भुगतान ऑक्सीजन सप्लायर को क्यों नहीं किया गया इसकी भी जांच होगी।

इस पूरी घटना की जांच जरुरी है। सीएम ने कहा इस मामले में जो भी दोषी होंगे उन्हें किसी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। उनके खिलाफ ऐसी कार्रवाई की जाएगी जो उदाहरण पेश करेग। इस पूरे मामले की जांच चीफ सेक्रेटरी की अध्यक्षता में होगी। योगी ने कहा यूपी में जो भी सरकारी डॉक्टर प्राइवेट प्रैक्टिस करते हुए पकड़े जाएंगे उनके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई होगी।

सीएम योगी ने एक बड़ी बात ये भी कही कि इस मामले पर फेक रिपोर्टिंग बिल्कुल भी नहीं हो। मैं चाहता हूं कि सभी पत्रकार एक बार में दो-तीन की संख्या में अस्पताल के वार्ड का निरीक्षण करें और जो सही स्थिति भीतर की है उसके बारे में वो बताएं। इसके लिए मैंने निर्देश भी जारी कर दिये हैं।

इस मौके पर सीएम ने विरोधियों पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि अस्पताल में मौत पर सियासत नहीं होनी चाहिए। जिनकी संवेदनाएं मर चुकी है वो संवेदनशील बने हुए हैं। गोरखपुर में हुई मौत पर राजनीति नहीं हो।

Loading...