UPPSC के चेयरमैन को CM ने तलब किया, विशेष जाति को लोगों की भर्ती का आरोप

लखनऊ: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने UPPSC के चेयरमैन को तबल किया है। UPPSC के चेयरमैन अनिरुद्ध यादव को भर्ती में खास जाति के लोगों को फायदा पहुंचाने का आरोप है। उनके खिलाफ एमएलसी दिनेश सिंह ने शिकायत की थी। जिसके बाद सीएम ने UPPSC के चेयरमैन अनिरुद्ध यादव को तलब किया है।

आरोप में कहा गया है कि UPPSC में ये भर्तियां पिछली सरकार के कार्यकाल में की गई थी। जाहिर है अनिरुद्ध यादव को जिस तरह से सीएम दरबार में तलब किया गया है उसके बाद अखिलेश यादव के कार्यकाल में हुई भर्तियों की जांच शुरु हो सकती है। यानि अखिलेश यादव के कामकाज की जांच की लिस्ट में UPPSC का नाम भी जुड़ जाएगा।

ये भी पढें :

– बिहार में जेडीयू नेता सूर्यदेव सिंह ने जमीन विवाद में मारी गोली, दो बच्चों की मौत

अबतक सीएम योगी लखनऊ में अरबों की लागत से बने अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट गोमती रिवर फ्रंट में हुई गड़बड़ी की जांच के आदेश दे चुके हैं। पीडब्लूडी मंत्री केशव प्रसाद मौर्य पहले ही कह चुके हैं कि अखिलेश सरकार के कार्यकाल में बनी पांच सड़कों की दोबारा जांच की जाएगी। इसमें लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे भी शामिल है।

लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे का उद्घाटन करते हुए अखिलेश यादव ने कहा था इसे रिकॉर्ड समय में तैयारी किया गया है। इसे तैयार करने में लागत भी कम आई है। खासबात ये है कि इस सड़क पर फाइटर प्लेन भी उतर सकता है। लेकिन जिस एक्सप्रेस वे को अखिलेश सरकार कई खूबियों से सराबोर बता रही थी अब उसे बनाने में हुई गड़बडी की जांच की जाएगी।

Loading...