CISF person saved the child

जानिये दिल्ली के मेट्रो स्टेशन पर CISF जवान ने कैसे बचाई बच्ची की जान ?

जानिये दिल्ली के मेट्रो स्टेशन पर CISF जवान ने कैसे बचाई बच्ची की जान ?

दिल्ली के कालकाजी मेट्रो स्टेशन पर एक बड़ा हादसा होते होते टल गया। इसके पीछे उस CISF जवान की सूझबूझ और वक्त पर सही कदम उठाना वजह है। CISF कांस्टेबल का नाम विकास टिर्की है। रविवार को शाम 5.15 बजे विकास ने अचानक एक चीख सुनी। उस वक्त विकास मेट्रो स्टेशन में प्रवेश करनेवाले लोगों की चेकिंग कर रहे थे। लेकिन उन्हें कुछ दिखी नहीं दिया। जिसके बाद वो दोबारा अपने काम में व्यस्त हो गए। दोबारा उन्होंने एक और चीख सुनी। जिसके बाद वो उस तरफ बढ़े। वहां विकास ने देखा की तकरीबन 8 साल की बच्ची एस्केलेटर के हैंडरेल से लटक रही है। उसका पूरा शरीर हवा में झूल रहा था और वह तकरीबन 10 फीट की ऊंचाई पर थी।

एक सुरक्षाकर्मी बच्ची की तरफ बढ़ा लेकिन तबतक लड़की का हाथ हैंडरेल से स्लिप हो गया और वो नीचे की तरफ गिरने लगी। उस वक्त वहां पर विकास भी मौजूद थे। उन्होंने सूझबूझ दिखाते हुए उपर से गिरती हुई बच्ची को पकड़ लिया। सही वक्त पर सही दिशा में कदम बढ़ाने की वजह से विकास ने एक बच्ची के साथ अनहोनी होने से बचा लिया। बाद में बच्ची को उसके परिवार को सौंप दिया गया।

एक वरिष्ठ CISF अधिकारी के मुताबिक बच्ची अपने परिवार की कुछ महिलाओं के साथ आई थी। वे सभी चेकिंग के बाद अंदर की तरफ चले गए। तब उसके पिता टोकन लेने में व्यस्त थे और परिवार के दूसरे लोग उसके अंदर आने का इंतजार कर रहे थे। वहां मौजूद चश्मदीदों के मुताबिक बच्ची ने पहले एस्केलेटर का हैंडरेल पकड़ा। और जब यह उसे ऊपर की तरफ खींचने लगा तब डर की वजह से उसने हैंडरेल को और जोर से पकड़ लिया। जब लोगों ने बच्ची को जमीन से ऊपर हवा में झूलते हुए देखा तो उन्होंने वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों को इसकी जानकारी दी। सुरक्षाकर्मी बच्ची की तरफ दौड़े भी लेकिन तबतक उसका हाथ हैंडरेल से छूट गया। उसी जगह पर नीचे विकास मौजूद थे जिन्होंने बच्ची को जमीन पर गिरने से पहले ही पकड़ लिया।

Loading...

Leave a Reply