@chintskap ने कांग्रेस और गांधी परिवार को कहा ‘बाप का माल था’?

@chintskap ने कांग्रेस और गांधी परिवार को कहा ‘बाप का माल था’?

  • राष्ट्रीय संस्थानों के नाम गांधी परिवार पर क्यों ?

अभिनेता ऋषि कपूर ने देश में राष्ट्रीय संस्थानों, राष्ट्रीय योजनाओं या सड़कों के नाम गांधी परिवार के नाम से रखे जाने पर नाराजगी जताई है। ऋषि कपूर की नाराजगी ट्वीटर के जरिये लोगों के सामने पहुंची। एक के बाद एक किये गए ट्वीट में ऋषि कपूर ने कहा है कि हर महत्वपूर्ण जगहों का नाम गांधी परिवार के नाम पर ही क्यों रखा जाता है। अपने ट्वीटर में उन्होंने आगे लिखा बाप का नाम समझ रखा था क्या ?

उन्होंने बांद्रा वर्लि सी लिंक का नाम लता मंगेशकर या जेआरडी टाटा के नाम पर रखने की मांग की। अपने ट्वीटर में आगे ऋषि कपूर ने लिखा की अगर दिल्ली में सड़कों का नाम बदला जा सकता है तो फिर गांधी परिवार के नाम पर रखे गए महत्वपूर्ण जगहों के नाम को क्यों नहीं बदला जाता। उन्होंने कहा की ये सही है कि महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों का नाम उनके नाम पर रखा जाना चाहिए जिन्होंने देश और समाज में अपना योगदान दिया है। लेकिन हर चीज में गांधी परिवार का नाम ही क्यों लिखा जाता है। इस बात से उन्होंने असहमति जताई है।

फिल्म सिटी का नाम दिलीप कुमार, देवानंद, अशोक कुमार या अमिताभ बच्चन के नाम पर रखा जाना चाहिए। राजीव गांधी उद्योग क्या होता है? ट्वीटर में ही सवाल के तौर पर ऋषि कपूर ने लिखा है कि मोहम्मद रफी, मुकेश, मन्ना डे, किशोर कुमार के नाम पर भी उनसे जुड़ी जगहों का नाम रखा जाना चाहिए। आगे उन्होंने लिखा था कि ये केवल एक सलाह भर है।

दिल्ली के IGI एयरपोर्ट के बारे में उन्होंने कहा की इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट ही नाम क्यों रखा गया ? महात्मा गांधी या भगत सिंह के नाम पर क्यों नहीं रखा गया। इसी ट्वीट में उन्होंने आगे चुटकी भरे अंदाज में लिखा या ऋषि कपूर के नाम पर क्यों नहीं रखा गया।

हलांकी ऋषि कपूर की तरफ से सीधे तौर पर गांधी परिवार पर किये गए इस हमले के बाद मुंबई में उनके घर के बाहर कांग्रेस विरोध की तख्ती लेकर पहुंच गए। उनके घर के बाहर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी की। प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसी कार्यकर्ता उनकी तरफ से कही गई बातों पर विरोध जताने के साथ साथ ऋषि कपूर से माफी मांगने की मांग भी कर रहे थे।

ऋषि कपूर ने ट्वीटर पर जो बात कही है दरअसल नामकरण की उस प्रथा पर काफी राजनीति भी होती रही है। नाम को लेकर कई बार सड़कों पर प्रदर्शन हो चुका है। ऋषि कपूर ने भी यही सवाल अपने ट्वीट में उठाया है कि आखिर राष्ट्रीय संस्थानों के नाम गांधी परिवार पर क्यों रखे गए हैं।

Loading...

Leave a Reply