चीन ने 10 न्यूक्लियर वॉरहेड ले जाने वाले मिसाइल का परीक्षण किया




नई दिल्ली: चीन ने 10 न्यूक्लियर वॉरहेड ले जाने वाले मिसाइल का परीक्षण किया है। एक मीडिया रिपोर्ट में ये दावा किया गया है। अमेरिका और चीन के बीच हाल के दिनों तल्खी भरे रिश्ते और वर्चस्व की लड़ाई के लिहाज से इसे काफी अहम माना जा रहा है। कहा जा रहा है कि चीन ने ये परीक्षण अमेरिका को अपनी शक्ति दिखाने के लिए किया है।

वॉशिंगटन फ्री बेकन की रिपोर्ट के मुताबिक चीन ने पिछले महीने DF-5 मिसाइल का परीक्षण किया था। जिसके लिए 10 मल्टीपल टार्गेटेबल व्हीकल का इस्तेमाल किया गया था। रिपोर्ट से जुड़े दो अफसरों ने बताया कि टेस्ट के लिए डमी वॉरहेड लगाए गए थे। DF-5 मिसाइल 10 डमी वॉरहेड लेकर गई थी। इस मिसाइल को शांसी प्रॉविन्स के ताईयुआन स्पेस लॉन्च सेंटर से लॉन्च किया गया। मिसाइल पश्चिमी चीन के एक रेगिस्तान में जाकर गिरा।
MIRV बैलेस्टिक मिसाइलों में इस्तेमाल होनेवाला एक ऐसा सिंगल सिस्टम है जिसमें कई वॉरहेड्स होते हैं। ये वॉरहेड्स लक्ष्यों के समूह में से हर एक को अलग-अलग निशाना बनाने में सक्षम होते हैं। जबकि पारंपरिक वॉरहेड्स केवल एक टारगेट को निशाना बना सकते हैं। रिपोर्ट में पेंटागन के प्रवक्ता कमांडर गैरी रॉस के हवाले से कहा गया कि डिफेंस डिपार्टमेंट नियमित तौर पर चीनी सेना से जुड़े घटनाक्रमों और पीएलए को लेकर हमारे डिफेंस प्लान से जुड़े मामलों पर नजर रखता है।

अमेरिका का मानना है कि चीन के पास तकरीबन 250 न्यूक्लियर वॉरहेड है। इससे पहले भी अमेरिका, चीन को उसके डिफेंस प्रोग्राम (लॉन्ग रेंज मिसाइल) में ट्रांसपेरेंसी न बरतने पर वॉर्निंग दे चुका है।

Loading...