सुषमा के जोरदार प्रहार के बाद चीन भी माना पाकिस्तान है आतंकियों का पनाहगाह

नई दिल्ली:  आतंकवाद के मुद्दे पर पाकिस्तान अलग थलग पड़ने लगा है। अब उसके सबसे खास दोस्त चीन के बोल भी उसके लिए कड़वे होने लगे हैं। संयुक्त राष्ट्र संघ में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के भाषण के बाद चीन की प्रतिक्रिया सामने आई है। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक पाकिस्तान आतंकियों के लिए पनाहगाह है। हलांकि सुषमा स्वराज के भाषण के बाद चीन भी तिलमिलाया हुआ है। चीन ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के भाषण को अहंगारी बताया है। लेकिन चीन ने ये माना है कि पाकिस्तान आतंकियों के लिए पनाहगाह है।

दरअसल चीन की इस बौखलाहट की वजह भी है। सुषमा स्वराज ने UNGA में अपने संबोधन में पाकिस्तान के साथ साथ चीन को भी कड़ा संदेश दिया थ। सुषमा स्वराज ने कहा था कि अच्छे और बुरे आतंकियों में फर्क नहीं होना चाहिए। आतंकवाद पर एक नीती होनी चाहिए। असल में चीन जैश ए मोहम्मद सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने में चीन सबसे बड़ी बाधा बन रहा है। अंतरराष्ट्रीय मंच पर मसूद अजहर का साथ देकर चीन घिर चुका है। ग्लोबल टाइम्स ने अपने संपादकीय में कहा है कि पाकिस्तान में आतंकवाद है, लेकिन क्या आतंकवाद का समर्थन करना देश की राष्ट्रीय नीति है?

ग्लोबल टाइम्स ने कहा है कि आतंकवाद का निर्यात कर पाकिस्तान को क्या मिल सकता है। क्या पाकिस्तान को आतंकवाद का निर्यात कर पैसा या सम्मान मिलता है। चीन ने ये भी साफ किया है कि उसका भारत से उलझने का कोई इरादा नहीं है।

Loading...