पुलिस ढूंढ रही है 1 करोड़ नकद और 2 किलो सोने का दावेदार

अहमदाबाद/ गुजरात: एक स्कूल में सफाई के दौरान 1 करोड़ नकद और 2 किलो सोना मिला था। स्कूल प्रशासन ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने मौके से नकद रकम और सोने को अपने कब्जे में ले लिया। बात तकरीबन डेढ़ साल पुरानी हो गई। उसके बाद से पुलिस इसके मालिक का इंतजार आज तक कर रही है। लेकिन इतनी बड़ी रकम का कोई दावेदार सामने नहीं आया। अब ये रकम पुलिस के लिए सिरदर्द साबित हो रहा है।

31 जनवरी 2015 को अहमदाबाद के पास चांदखेड़ा इलाके में ओएनजीसी परिसर के स्कूल में सफाई के दौरान स्टाफ के लॉकरों से 1 करोड़ नकद और 2 किलो सोना मिला था। जिसके बाद स्कूल प्रशासन ने इस बारे में पुलिस को जानकारी दी। पुलिस पैसों और सामान को लेकर दावेदार का इंतजार करती रही। लेकिन कोई सामने नहीं आया।

इन सामानों को डेढ़ साल से चांदखेड़ा पुलिस की कस्टडी में रखा गया है। लेकिन इस पुलिस स्टेशन में इस तरह के सामान को रखने के लिए लॉकर तक के इंतजाम नहीं हैं। इसकी रखवाली के लिए एक पुलिस जवान को बतौर गार्ड तैनात किया गया। लेकिन अब चांदखेड़ा पुलिस का हिम्मत जवाब देने लगा है। उसने सिटी पुलिस कमिश्नर से सोने और कैश के मालिक का पता लगवाने के लिए विज्ञापन देने की इजाजत मांगी है। पुलिस इसे सरकार को सौंपने के लिए कानूनी कार्रवाई की शुरुआत भी कर चुकी है।

यहां सबसे बड़ी दिक्कत है कि जिस चांदखेड़ा में स्कूल के लॉकर से ये रकम बरामद किये गए हैं पुलिस के मुताबिक उसे बगैर किसी नंबर के शिक्षकों और स्कूल के कर्मचारियों को दिये गए थे। अब किस कर्मचारी को कौन सा लॉकर मिला था इसका स्कूल के पास कोई रिकॉर्ड नहीं है। यही सबसे बड़ी मुसीबत है। पुलिस जिन लोगों से पुछताछ कर सकती थी कर चुकी। लेकिन एक भी दावेदार सामने नहीं आया।

Loading...