बलूचिस्तान पर मोदी के समर्थन से डरा पाकिस्तान, 3 बलूच नेताओं पर किया केस दर्ज

बलूचिस्तान पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान और उस बयान को बलूचों की तरफ से मिले समर्थन से पाकिस्तान बुरी तरह से घबरा गया है। उसे ये समज नहीं आ रहा है कि बलूचिस्तान मामले पर जिस तरह से पीएम मोदी ने पाकिस्तान को कटघरे में खड़ा किया है उससे कैसे निकला जाए। उसकी हालत खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे वाली हो गई है। पाकिस्तान को जब विरोध दबाने का और को रास्ता नहीं दिखा तो उसने उन तीन बलूच नेताओं के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है जिन्होंने पीएम मोदी के बयान का गर्मजोशी से समर्थन किया था।

पाकिस्तान ने छात्र नेता करीमा बलूच, हरबियार मर्री और ब्रह्दग बुगती के खिलाफ 5-5 केस दर्ज किये हैं। जिसमें उनपर गंभीर आरोप लगाए गए हैं।
पाकिस्तान अपने ही बिछाए जाल में तब फंस गया जब 15 अगस्त को पीएम मोदी ने लाल किले से बलूचिस्तान, गिलगित और पीओके के लोगों का आभार जताने के लिए धन्यवाद किया था। इससे पहले पीएम मोदी ने कश्मीर मुद्दे पर बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में कहा था कि पाक अधिकृत कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है। साथ ही उन्होंने कहा था कि बलूचिस्तान गिलगित और पीओके में पाकिस्तान की तरफ से किये जा रहे अत्याचार को दुनिया के सामने लाने की जरुरत है। पीएम के उसी बयान के बाद बलूच नेताओं ने एक सुर में पीएम नरेंद्र मोदी का समर्थन किया था और भारत से बलूचिस्तान और पीओके में दखल देने की मांग की थी। पीएम मोदी को मिले उसी समर्थन से पाकिस्तान डरा हुआ भी है और बौखलाया हुआ भी है।

Loading...

Leave a Reply