बुराड़ी 11 मौत: रजिस्टर में लिखा था ’30 जून को परमात्मा से मिलना है’

नई दिल्ली:  दिल्ली में बुराड़ी के संतनगर में एक घर में हुई 11 मौत के पीछे की वजह आध्यात्मिक बताई जा रही है। पुलिस को घर के भीतर मिले रजिस्टर में जो बातें लिखी मिली उससे काफी हद तक ये साफ हो चुका है कि परिवार ने मोक्ष के चक्कर में पड़कर खुदकुशी और हत्या की योजना बनाई। इस घर के हॉल में 10 लोगों के शव फंदे से लटके मिले थे जबकि एक लाश दूसरे कमरे में पड़ी थी। जो घर की सबसे वृद्ध महिला की थी।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक घर के भीतर रखे रजिस्टर में लिखा गया था कि 30 जून को हमें परमात्मा से मिलना है। इसमें ये भी लिखा था कि इसके लिए साधना करनी होगी और साधना में कष्ट भी होगा। दरअसल रजिस्टर में लिखे साधना का मतलब खुदकुशी था। मृतकों में 7 महिलाएं, दो पुरुष और दो लड़के थे।

इस केस की जांच का जिम्मा दिल्ली क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया है। जांच टीम के मुताबिक घर में लिखे रजिस्टर में लिखा था मोक्ष प्रप्त करना है तो जीवन को त्यागना होगा, जीवन को त्यागने के लिए मौत को गले लगाना होगा। मौत को गले लगाने में कष्ट होगा। कष्ट से छुटकारा पाना है तो आंखें बंद करनी होगी।

डायरी में आखिरी बार 26 जून को कुछ लिखा गया था। जिसमें लिखा था कि 30 जून को हमें परमात्मा से मिलना है। इसलिए हम सब हाथ पांव, मुंह पूरी तरह से बांधेंगे ताकि किसी की सुन ना सकें। रजिस्टर में आगे लिखा है रात को 1 बजे के बाद साधना करनी है। इस साधना को करने से पहले नहाना नहीं है। केवल हाथ और मुंह धोकर बैठना होगा। सभी को अपने हाथ-पैर खुद बांधने होंगे। हां, हाथ-पैर खोलने के लिए हमलोग एक दूसरे की मदद कर सकते हैं।

रजिस्टर में एक जगह पर ये भी लिखा गया है कि माताजी बहुत बुजुर्ग हैं। इसलिए वह साधना करने के लिए स्टूल पर नहीं चढ़ पाएंगी। और ना ही बहुत अधिक देर तक उसपर खड़ी रह पाएंगी। इसलिए उन्हें दूसरे कमरे में साधना करानी होगी। साधना के वक्त किसी के भी चेहरे पर तनाव या दुख नहीं झलकना चाहिए।

पुलिस को शक है कि रजिस्टर में लिखावट ललित की है। इस साधना (खुदकुशी) के लिए ललित और भूपि ने ही मुख्य योजना बनाई थी। बाद में पूरे परिवार को इसमें शामिल कर लिया।  रजिस्टर में मोबाइल को अपने से दूर रखने और कान में रूई डालने की बात भी लिखी गई है। पुलिस को सारे सदस्यों के मोबाइल और टैबलेट घर में बने मंदिर के पास एक पॉलीथीन से मिले। और सभी फोन साइलेंट मोड में थे।

(Visited 16 times, 1 visits today)
loading...