दिल्ली के मंत्री गोपाल राय के शरीर से निकाला गई गोली

दिल्ली के मंत्री गोपाल राय के शरीर से निकाला गई गोली

17 साल से शरीर मे फंसी गोली अब तकलीफ देने लगी थी। दिल्ली के परिवहन मंत्री गोपाल राय को गोली तब लगी थी जब वो छात्र राजनीति में सक्रिय थे। गोपाल राय इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में आइसा के सक्रिय छात्र नेता थे। यूनिवर्सिटी परिसर में अपराधिकरण के खिलाफ गोपाल राय ने मुहिम चलाई थी। उसी दौरान 1999 में उनपर हमला किया गया था। उनपर गोली चलाई गई थी। तकरीबन सात साल तक गर्दन से नीचे उनका शरीर लकवाग्रस्त रहा था। वही गोली उनकी रीढ़ की हड्डी में फंसी थी।

17 साल पहले शरीर में घुसी गोली अबतक उनके भीतर मौजूद थी। लेकिन अब तकलीफ बढ़ने लगी थी। जिसके बाद उन्होंने डॉक्टरों से संपर्क किया। कुछ दिनों पहले गोपाल राय ने चक्कर आने की शिकायत की थी। जिसपर डॉक्टरों का कहना था कि रीढ़ की हड्डी में फंसी गोली की वजह से ये तकलीफ हो रही है। जिसका एक ही इलाज है ऑपरेशन।

एक निजी अस्पताल में दिल्ली सरकार के मंत्रि गोपाल राय का ऑपरेशन किया गया। जो पूरी तरह से कामयाब रहा। डॉक्टरों ने उनके शरीर में फंसी गोली को बाहर निकाल दिया।

Loading...

Leave a Reply