कश्मीर में दर्द से तड़प रहे बच्चे को एयरफोर्स ने एयरलिफ्ट कर अस्पताल पहुंचाया

नई दिल्ली:  जम्मू कश्मीर के पत्थरबाज चाहे सेना के खिलाफ जितनी भी साजिश करें, जितनी भी नफरत फैलाएं और चाहे जितना पत्थर बरसाएं सैनिकों पर लेकिन मुसीबत में यही सेना उनके लिए फरिश्ता बनकर सामने आती हैं। चाहे वो कोई प्राकृतिक आपदा हो या फिर बीमारी से परेशान कोई बीमार व्यक्ति। हर वक्त सेना पुराने अनुभव को भुलाकर उनकी मदद के लिए तैयार रहती है।

गुरेज में भी ऐसा ही कुछ हुई। जम्मू कश्मीर के गुरेज में 9 साल का एक बच्चा अपेंडिक्स के दर्द से कराह रहा था। घरवाले उसे अस्पताल ले जाना चाहते थे लेकिन मौसम काफी खराब होने की वजह से वो उसे अस्पताल नहीं पहुंचा पा रहे थे। दर्द की वजह से बच्चा इतना बेचैन हो चुका था कि अगर वक्त पर उसे अस्पताल नहीं पहुंचाया जाता तो कोई भी अनहोनी हो सकती थी। लेकिन उसके घरवाले मजबूर थे क्योंकि मौसम काफी खराब था।

Image Sourse- ANI

इस बात की खबर घाटी में तैनात सुरक्षाबलों तक पहुंची। चुकी मौसम काफी खराब था बर्फबारी की वजह से रास्ते बंद थे इसलिए अस्पताल पहुंचने का एक ही रास्ता बचा था वायुमार्ग। वायुसेना की तरफ से जिस तरह की पहल की गई उसे देखकर हर कोई सैल्यूट कर रहा है।

वायुसेना के हेलीकॉप्टर से बच्चे को एयरलिफ्ट कर गुरेज से श्रीनगर के अस्पताल पहुंचाया गया। जिस तरह से मौसम काफी खराब था उसमें हेलीकॉप्टर उड़ाने में भी काफी खतरा था। लेकिन यहां अपेंडिक्स के दर्द के तड़प रहे बच्चे को बचाना ज्यादा जरूरी थी। इसलिए वायुसेना के जवानों ने अपनी जान की  परवाह किये बगैर उसे श्रीनगर के अस्पताल ले आए। जहां उसका इलाज किया जा रहा है।

Loading...