बिगड़ैल और बदजुबान अलेक्जेंडर बोरिस डी जॉनसन बने ब्रिटेन के विदेश मंत्री !

अपनी बिगड़ी बोली से दुनिया के नेताओं पर उल्टे सीधी बयान देने और कॉलम में लिखने वाले अलेक्जेंडर बोरिस डी जॉनसन ब्रिटेन के नए विदेश मंत्री होंगे। जॉनसन की सोच और उनकी बिगड़ी बोली का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि उन्होंने विदेशियों को हबशी का बच्चा और नरभक्षि कहकर संबोधन किया है।

जॉनसन की बोली केवल आम जनता के लिए ही नहीं बिगड़ी है। राजनेताओं के लिए भी वो इसी तरह की बिगड़ी हुई बोली का इस्तेमाल करते हैं। उनकी बदजुबानी से अमेरिका की पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन भी नहीं बच पाई हैं। हिलेरी को जॉनसन ने मेंटल हॉस्पिटल की सडिस्टिक नर्स करार दिया था।

जॉनसर को बोजो के नाम से भी जाना जाता है। ब्रेग्जिट के पक्ष में जन समर्थन जुटाने की वजह से जॉनसर की अपनी पहचान बनी। माना जा रहा है इन्हें विदेश मंत्री बनाने में ब्रेग्जिट की बड़ी भूमिका है। कहा तो ये जा रहा है कि कैमरन के इस्तीफे के बाद ये पीएम की रेस में भी थे। लेकिन ऐन वक्त पर बाजी पलट गई। और जॉनसन विदेश मंत्री ही बन सके। वह ब्रजेल्स में टाइम्स ऑफ लंदन के रिपोर्टर थे। फिर वो लंदन के मेयर बने।
माना जा रहा है कि ब्रिटेन की नई पीएम टरीसा मे ने ही उन्हें अपना विदेश मंत्री चुना है। जॉनसन सबसे ज्यादा विवाद में आए थे 2002 में। जब टोनी ब्लेयर ब्रिटेन के पीएम थे और डेमोक्रेटिक रिपब्लिकन ऑफ द कांगो के दौरे पर थे। तब जॉनसन ने लिखा था ‘बेशक AK 47 बंदूकें खामोश हो जाएंगी और चाकू मांस काटते हुए रुक जाएंगे और आदिवासी लड़ाके मुस्कुराते हुए एक श्वेत चीफ को ब्रिटिश टैक्सपेयर्स के पैसे से बड़े प्लेन से उतरते देखेंगे।‘ हलांकि बाद में उन्होंने इसके लिए माफी मांग ली थी। लेकिन हंगामा काफी हुआ था।
एकबार तो जॉनसन ने अमेरिकी राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन की तुलना हैरी पोटर के डॉबी द हाउल इल्फ से कर दी। इसके साथ ही जॉनसन ने कहा था कि पुतिन बच्चों की फिल्म के किरदार नहीं हो सकते क्योंकि वह एक क्रूर तानाशाह हैं और जोड़तोड़ में माहिर हैं।
जॉनसन ने कई अमेरिकी नेताओं का भी अपमान किया है। इस लिस्ट में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज बुश और हिलेरी क्लिंटन के साथ ट्रंप भी शामल हैं। ऐसे में अचानक जॉनसन के विदेश मंत्री बन जाने पर कई लोगों ने हैरानी भी जताई है। हलांकि उनके पास कूटनीतिक और विदेशों का अनुभव है। लेकिन उनकी बदजुबानी कई बार मुसीबत भी बनती रही है।

Loading...