BJP इस War Room से कर रही है यूपी चुनाव में जीत की तैयारी




लखनऊ: अगर सियासी लड़ाई जीतनी हो तो किसी भी राजनीतिक पार्टी के लिए सोशल मीडिया पर पकड़ बनाना काफी जरुरी है। क्योंकि अब वो दिन पुराने हो गए जब नेता मतदाता के पास जाते थे, अपनी बात बताते थे, शहर में पोस्टर लगवाते थे फिर चुनाव प्रचार शुरु करते थे। अब वक्त बदल चुका है। अब मिनटों में नहीं सेकेंड में फैसले होते हैं और उससे भी कम वक्त में अपनी बात जनता तक पहुंचा दी जाती है। इसमें सोशल मीडिया एक अहम जरिया है।

लखनऊ में बीजेपी ने यूपी चुनाव के लिए ऐसा ही एक वॉर रुम तैयार किया है। जिसमें पार्टी के साथ साथ विरोधियों की हर गतिविधी पर नजर रखी जाती है। इस वॉर रुम में तकरीबन 7000 व्हाट्सऐप ग्रुप एक्टिव हैं, इसी जगह पर दूसरे कमरे में 90 सीटों वाला कॉल सेंटर बनाया गया है। एक कमरे में मीडिया की मॉनिटरिंग होती है। जिसमें कई टीवी लगे हैं और इससे ये पता लगाया जाता है कि कहां क्या हो रहा है और किस चैनल या डिबेट में क्या चर्चा है। इसकी मॉनिटरिंग कर रहे लोग इसकी जानकारी पार्टी के ऊपर के पदाधिकारियों तक पहुंचाते हैं।

लखनऊ में बने बीजेपी के इस वॉर रुम के संचालक कमलेश्वर मिश्रा हैं। इन्हीं की देखरेख में इस वॉर रुम में सारा काम किया जाता है। सोशल मीडिया के लिए ग्राफिक्स डिजाइन, व्हाट्सऐप पर मैसेज भेजना, उस व्हाट्सऐप ग्रुप में लोगों को जोड़ना, ट्वीटर के ट्रेंड पर नजर रखना ये सारा काम बीजेपी के इसी वॉर रुम से होता है।

पार्टी के इस वॉर रुम में कई टीवी लगे हैं। जिनपर अलग अलग न्यूज चैनल दिखाई देते हैं। तीन से चार लोगों की टीम इसकी मॉनिटरिंग करती है। इसी दफ्तर में डाटा रुम भी है। जहां दो लोग अलग अलग आंकड़े इकट्ठा करते हैं। यहां एक कांफ्रेंस रूम भी तैयार किया गया है। जहां हर सुबह ये तय किया जाता है कि दिनभर क्या करना है। एक रणनीति तय होती है और फिर उसपर अमल किया जाता है। पार्टी ने पूरे प्रदेश को 6 रीजन में बांटा है। हर रीजन की जिम्मेदारी अलग अलग लोगों को दी गई है। हर रीजन के कार्यकर्ताओं से इसी वॉर रुम से संपर्क किया जाता है।

पार्टी ने अपनी टीम हर रैली, सभा में लगा रखी है। जो जल्द से जल्द स्पॉट से फोटो और वीडियो इस वॉर रुम में भेजते हैं। जिसके बाद ये तय किया जाता है कि उन वीडियो और फोटो को कहां कहां भेजना है। किस तरह का ग्राफिक्स डिजाइन उनमें किया जाना है।

Loading...

Leave a Reply