rupa-ganguly-in-rajya-sabha

राज्यसभा में बीजेपी सांसद रूपा गांगुली ने दिखाया अपना रौद्र रूप

राज्यसभा में बीजेपी सांसद रूपा गांगुली ने दिखाया अपना रौद्र रूप




नई दिल्ली: बीजेपी की राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली का क्रोध आज राज्य सभा में दिखा। दरअसल कांग्रेस सांसद रजनी पाटिल ने पश्चिम बंगाल के विमला आवास कांड में बच्चों की तस्करी से रूपा गांगुली का नाम जोड़ दिया। हलांकि रजनी ने रूपी गांगुली का नाम नहीं लिया था। लेकिन उन्होंने इशारा कुछ इस तरह से किया था कि बात सीधी रूपा गांगुली पर आकर रुकी।

इसके बाद रूपा गांगुली पहले अपनी जगह पर खड़ी होकर ही रजनी पाटिल के बयान का विरोध करने लगी। रूपा कह रही थीं कि रजनी ने प्रत्यक्ष तौर पर इस मामले में उनका नाम लिया है। रूपा सभापति से रजनी के बयान और आरोप का जवाब देने के लिए समय की मांग कर रही थी। रूपा ने कहा सभापति को उन्हें बोलने का समय देना होगा।

रूपा ने आगे कहा अगर सभापति उन्हें बोलने का समय नहीं देंगे तो वो उनकी सीट पर आकर बोलेगी। बीजेपी के कुछ सांसद भी उनके पक्ष में बोलने लगे। विरोध करते हुए रूपा वेल तक पहुंच गई। इसके बाद सभापति ने रूपा से पूछा क्या कांग्रेस सांसद ने उनका नाम लिया है। सभापति कई बार पूछे कि क्या उनका नाम लिया गया है। इसपर रूपा ने कहा सीधे तौर पर तो उनका नाम नहीं लिया लेकिन इशारों में उनके यहां उपस्थित होने का जिक्र किया गया है।

सभापति ने बाद में कहा वो रेकॉर्ड देखकर इस बात का पता लगाएंगे कि प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर उनका नाम लिया गया होगा तो वो उसे रेकॉर्ड से हटवा देंगे। बाद में मुख्तार अब्बास नकवी के समझाने पर रूपा शांत हुईं और अपनी जगह पर बैठीं।

दरअसल बच्चों की तस्करी के मामले में गिरफ्तार विमला आवास कांड में आरोपी चंदना चक्रवर्ती ने पुलिस पूछताछ में रूपा गंगुली और बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय का नाम लिया था। चंदना ने कहा था ये दोनों बच्चों को बेचने में मदद करते थे। चंदना विमला शिशु गृह चलाती थी। उसपर कई बच्चों को बेचने का आरोप है।

Loading...

Leave a Reply