ममता के साथ बीजेपी के स्वामी, मोदी सरकार के आधार लिंक योजना को बताया खतरनाक

नई दिल्ली:  जिस योजना को अमल में लाने के लिए मोदी सरकार जी जान से जुटी है। उस योजना का विरोध उन्हीं की पार्टी के भीतर होने लगा है। विरोध करनेवाला किसी राज्य या जिले के अध्यक्ष नहीं बल्कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता हैं। सुब्रमण्यम स्वामी ने मोदी सरकार के आधार लिंक योजना का विरोध किया है। स्वामी ने कहा है कि आधार देश क सुरक्षा के लिए खतरा है। सुप्रीम कोर्ट को इसपर भी विचार करना चाहिए।

स्वामी ने इसे लेकर एक ट्वीट भी किया है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि आधार देश की सुरक्षा के लिए किस तरह से खतरा है इसके बारे में वो पीएम मोदी को चिट्ठी लिखकर जानकारी देंगे। स्वामी ने आगे लिखा मुझे उम्मीद है सुप्रीम कोर्ट सरकारे के इस फैसले को खारिज कर देगा।

स्वामी से पहले पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने भी आधार को अनिवार्य बनाए जाने का विरोध किया था। ममता बनर्जी ने कहा था वो अपना फोन नंबर आधार नंबर से लिंक नहीं करवाएंगी। अधार को अनिवार्य बनाने के केंद्र सरकार के फैसले के खिलाफ ममता ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी दी है और इसमें दखल की मांग की है।

अपने विरोध के पीछे ममता ने तर्क दिया है जैसे ही आप अपना आधार नंबर फोन नंबर के साथ लिंक करेंगे उन्हें (केंद्र सरकार) सब पता चल जाएगा। घर में क्या खा रहे हैं। पति-पत्नी क्या बात कर रहे हैं। सब उन्हें पता चल जाएगा।

Loading...