सुपौल: 15 घंटे में लूट की दो वारदात, पुलिस आती नहीं और लुटेरे लूट लेते हैं

प्रदीप जैन/सुपौल
सुपौल/बिहार:  सुपौल जिले के पिपरा थाना क्षेत्र में बेखोफ अपराधियों ने सड़क लूट की घटना को अंजाम देते हुए दो लोगो को शिकार बनाया। जिसमें एक डॉक्टर शामिल हैं। मामले में पीड़ितों ने पुलिस के समक्ष इसकी लिखित शिकायत दर्ज कराई है। मिली जानकारी के अनुसार पिपरा स्थित थुमहा में आयुष चिकित्सक पद पर कार्यरत डॉक्टर सुरेंद्र राम अपने निवास स्थान सुपौल से पिपरा जा रहे थे। उसी दौरान पथरा चौक से सटे पश्चिम ईदगाह के समीप पूर्व से घात लगाए हथियारबंद अपराधियों ने घेर लिया और मोटरसाइकिल की चाभी छीन ली।

इस दौरान अपराधियों ने नगद 2200 रुपये व दो सैमसंग मोबाइल ले लिया। सड़क पर चहल पहल और मोटरसाइकिल स्टार्ट नहीं होने के कारण उसे नहीं लूट पाए। सोमवार को सुरेंद्र राम रात्रि ड्यूटी निभाने सुपौल से पिपरा अस्पताल जा रहे थे तभी अपराधियों ने वारदात को अंजाम दिया। लूट की इस वारदात को रात के 8 बजे के करीब अंजाम दिया गया।

वहीं दूसरी घटना मंगलवार 11 बजे दिन की है। जब प्रीतम नाम के शख्स से निर्मली बाजार में सरेआम अपराधियो ने दस हजार रुपये व मोबाइल की लूट कर ली।पीड़ित प्रीतम कुमार भारती साकिन दाहा पो बभनी जिला मधेपुरा का रहने वाला बताया जाता है। पुलिस के समक्ष दिए अपने बयान में प्रीतम ने बताया कि मंगलवार को किसी कार्य से थुमहा से सुपौल टाटा सफारी से जा रहे थे। उसी क्रम में निर्मली बाजार में पहले से मौजूद लोगों ने सुरेश चौधरी का पता पूछने के बहाने गाड़ी रुकवाई और मारपीट को अंजाम देने लगे इसी दरम्यान लोगों ने पास में मौजूद दस हजार रुपये और मोबाइल छीन लिया।

विरोध करने पर गंदी गंदी गाली दी गई । पीड़ित द्वारा दर्ज कराई गई रपट में कुल पांच लोगों को नामजद आरोपी बनाया है। जिसमें राजकुमार मंडल, विकास मंडल, विजय चौधरी, राकेश चौधरी व रूपेश चौधरी शामिल हैं। मामले में पिपरा पुलिस ने दो अलग अलग प्राथमिकी दर्ज की है। थानाध्यक्ष शिवशंकर कुमार ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। पंद्रह घंटे के अंतराल पर लूट की इस घटना के बाद लोगों मे भय का माहौल है।

Loading...