सुपौल:शौचालय प्रोत्साहन राशि के लिए वार्ड पार्षद व कार्यालय कर्मी मांगा जाता है रिश्वत

प्रदीप जैन/सुपौल
सुपौल/बिहार:सुपौल प्रखंड क्षेत्र के राघोपुर पंचायत के वार्ड नम्बर 1, 3 और 4 के लाभुक महिला पुरुष ने सेकड़ो की संख्या मे शुक्रवार को राघोपुर प्रखंड मुख्यालय पहूंच बीडीओ कार्यालय का घेराव किया और साथ ही प्रशासन विरोधी नारे लगाते हुए प्रदर्शन किये।

हालांकि उस वक्त बीडीओ राघोपुर मनोज कुमार अपने कार्यालय मे मौजूद नही थे। प्रदर्शनकारियों का कहना था की जब तक बीडीओ कार्यालय पहुचकर हमलोगों का बात नही सुनेंगे और उसका निदान नही करेगे तब तक हमलोग कार्यलय का घेराव करते हुआ प्रखंड परिसर मे ही मौजूद रहेंगे।

घेराव कर प्रदर्शन कर रहे लाभुको का कहना था की हमलोगों ने मुखिया वार्ड सदस्य बीडीओ के कहने पर अपने अपने घरो मे शौचालय बना लिए लेकिन प्रोत्साहन राशि महीनों बीत जाने के बाद भी हमलोगो के बैंक खाते मे अभी तक नही भेजा गया है। उनलोगों ने संबंधित वार्ड के वार्ड सदस्य और कार्यालय कर्मी पर आरोप लगाते हुआ कहा की जब शौचालय निर्माण के बाद प्रोत्साहन राशि की मांग की जाती है तो उनलोगों के द्वारा राशि दिलाने के नाम पर अलग से राशि की मांग की जाती है।

बताया की जियो टेग के नाम पर भी किसी से 5 सो तो किसी से 2 सो रुपये की मांग की जाती है। वही कुछ लोगों का कहना था की वर्ष 2007-08 मे हमलोगों के नाम से अवेध रूप से शौचालय निर्माण का राशि उठा लिया गया था। बताया की इसकी जानकारी तब मिली जब बीडीओ के कहने पर हमलोग ने अपने अपने घर मे महाजन से 5 रुपये सैकड़ा व्याज पर राशि उठाकर शौचालय बना लिया और जब अब प्रोत्साहन राशि की मांग की जा रही है तो हमलोगों को बताया जाता है की आपके नाम पर वर्ष 2007-08 मे ही शोचालय योजना के नाम पर प्रति शोचालय 1500 की राशि निकाल ली गई। जबकि हमलोगों को किसी तरह की जानकारी नही थी की हमलोगों के नाम पर शोचालय का रुपया कब उठा लिया गया ।तथा न ही हमलोगों के द्वारा उस समय कोई शोचालय का निर्माण करवाया गया।

उनलोगों ने बताया की हमलोग महाजन के कर्ज का व्याज भर रहे है और प्रोत्साहन राशि देने के नाम पर विभाग द्वारा दुत्कार दिया जाता है। वही वार्ड नम्बर 4 के सहनाज खातून, जुमनी खातून, बुदनी खातून, मो रुस्तम, ललन पासवान, सोमनी देवी आदि लोगों ने बताया की मुख्यमंत्री आने के नाम पर हमलोगों से जल्दवाजी मे अधिकारियों के द्वारा प्रेशर देकर शौचालय बनवा लिया गया लेकिन प्रोत्साहन के नाम पर महीनों से कार्यालय का चक्कर लगवाया जा रहा है। लाभुक चंद्रिका देवी, राजदेव मुखिया, महिंद्र पासवान, किरण देवी, शारदा देवी, मंसूरिया देवी, फूलो देवी, मसोमात सिगरवाति, रिता देवी, अनिल देवी, मधुरमेन देवी, मंजू देवी, पारो देवी, रंजू देवी, अमिरका देवी, सुनेना देवी आदि का कहना था की हमलोगों के द्वारा बीडीओ, मुखिया के कहने पर वर्तमान समय मे चल रहे लोहया स्वछ बिहार अभियान के अंतर्गत हमलोग अपने घरो मे शोचालय बना लिया गया लेकिन प्रोत्साहन राशि के नाम पर हमलोगों को हर रोज कार्यालय का चक्कर लगाना पड़ता है।

बताया की उस समय जब हमलोग शौच कार्य हेतु बाहर जाते थे तो प्रशासन के द्वारा मारपीट किया जाता था गली गलौज दिया जा रहा था तब हमलोगों के द्वारा शौचालय बनाया गया लेकिन अब जब प्रोत्साहन राशि की मांग करते है तो रिश्वत मांगी जाती है।

Loading...