सहरसा: नेताओं के कोरे भाषण और वादों पर नंदन ने जड़ दिया करारा तमाचा

गौतम कुमार/सहरसा
सहरसा/बिहार:  अक्सर नेताजी के द्वारा दिखाए गए सपने अधूरे रह जाते हैं और ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। लेकिन बघवा के युवा नंदन राय और कृष्णा झा द्वारा ऐसे ही कुछ सपनों को पूरा किया जा रहा, जिसे नेताओं द्वारा अधूरा छोड़ दिया गया। इन युवाओं ने बघवा गांव को रौशनी से चकचौन्ध करने का जिम्मा लिया है। जिसमें एक के बाद एक सफलता हासिल कर ग्रामीणों के बीच मसीहा बन गए है।

बताया जा रहा है कि दिवाली के समय से इन्होंने इस काम शुरुआत की और आज तक कुल 15 स्ट्रीट लाइट से बघवा गांव को रौशन कर चुके है। ग्रामीणों की सुविधा के लिए इनके द्वारा अपने पैसे से लाइट की सुविधा प्रदान की जा रही है ।

इस नेक काम से खुश ग्रामीण महिलाओं ने बताया कि आज से पहले जब हमें मंदिर या कहीं जाना होता था तो कई बार सोचना पड़ता था ।क्योंकि रास्ते में अंधेरा छाया होता था। लेकिन आज हम आसानी से बहार निकल सकते हैं, क्योंकि हमारे गांव में भी शहर के तरह चारों तरफ रौशनी है।
इस बारे में नंदन राय का कहना है कि वो दिल्ली में रहते थे । और जब घर आये तो यहां की परेशानी को देख कर इस पहल को शुरुआत की और आज तक उनके द्वारा 15 स्ट्रीट लाइट लगाए जा चुके हैं।

Loading...