सहरसा की बेटी ने पौलेंड में एमए बिजनेस लॉ में सर्वोच्च स्थान प्राप्तकर किया रिकॉर्ड बुक में हस्ताक्षर

गौतम कुमार/सहरसा
सहरसा/बिहार:एक बार फिर सहरसा की बेटी ने सहरसा का सर गर्व से ऊंचा कर दिया है।सहरसा की बेटी आकांक्षा नेहा ने पौलेंड में एमए बिजनेस लॉ में सर्वोच्च स्थान प्राप्त करने पर पौलेंड के राष्ट्रपति निवास में वर्ष 1918 से रखे रिकॉर्ड बुक पर हस्ताक्षर किया। जिसे कई दशकों तक संग्रहित रखा जाएगा।

सहरसा के प्रो डॉ अरविंद कुमार सिंह व प्रो रीना सिंह की पुत्री आकांक्षा नेहा ने अपनी दसवी की पढाई सेंट जेवियर्स स्कूल सहरसा से की जिसके बाद जमशेदपुर से बारहवीं की परीक्षा उत्तीर्ण हुई। तमिलनाडू के मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज से कॉरपोरेट इकोनोमिक्स में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त की थी। वहां से जीमेट की परीक्षा पास करने के बाद लंदन के लंदन बिजनेस स्कूल से फाइनेंस में एमबीए की डिग्री हासिल की।

उसके बाद वारसा (पौलेंड की राजधानी) में सिटी बैंक इन्वेस्टमेंट बैंकर के रूप में काम करते हुए मिसजनिको स्कूल ऑफ एजुकेशन और एडमिस्ट्रेशन संस्थान से एमए बिजनेस लॉ में 90 फीसद अंक लाकर सर्वोच्च स्थान प्राप्त किया।

इस प्रतिष्ठित कोर्स में सर्वोच्च स्थान प्राप्त करने के बाद इन्हें पौलेंड के राष्ट्रपति निवास में रखे रिकॉर्ड बुक में हस्ताक्षर करने का मौका मिला। नेहा बिहार की पहली लड़की है जिसे यह सम्मान मिला है।हीं नेहा के इस उपलब्धि पर स्थानीय लोगों ने हर्ष जताया है

(Visited 25 times, 1 visits today)
loading...