सहरसा:किसानो के सभी प्रकार के कर्ज माफ़ करे सरकार:मीर रिजवान

गौतम कुमार/सहरसा
सहरसा/बिहार:सिमरी बख्तियारपुर हाई स्कूल के मैदान में मक्का उत्पादक किसानो के समस्याओं पर विचार एवं समाधान के लिए अनुमंडल स्तरीय आम बैठक आयोजित की गयी, मुख्य रूप से मक्का किसानो की समस्याओ पर काफी विचार विमर्श एवं मंथन किया गया।

सर्व सम्मति से यह निर्णय लिया गया की अनुमंडल एवं प्रखंड स्तर पर किसानो की समिति बने जो की किसानो की समस्याओ के लिए और उनके हक-हकूक की लड़ाई को लडे।बैठक को संबोधित करते हुए राजद नेता सह कोशी समाज सेवा संगठन के अध्यक्ष मीर रिजवान ने कहा की जिस देश में 80% लोग किसान है। और भारत को कृषि प्रधान देश कहा जाता है। जहाँ किसान देश और दुनिया के समस्त जीवो का भोजन तैयार करता है वहीं वर्तमान सरकार के द्वारा किसानो के साथ घोर अन्याय पुरे भारत वर्ष में हो रहा है।

आज किसानो की ऐसी हालत हो गयी है की किसान आत्म-हत्या करने को मजबूर हो रहे है, जो सरकार के कार्यो की विफलता को दर्शाता है

उन्होंने भारत सरकार एवं बिहार सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा की जब भारत के अडानी,अम्बानी जैसे पूंजी पतियों का लाखो हजारो करोड़ रूपये माफ़ हो सकता है तो फिर, कृषि प्रधान देश में किसानो का कर्ज क्यों नही माफ़ हो सकता ।

उन्होंने भारत सरकार एवं बिहार सरकार से किसानो के सभी प्रकार के कर्ज को माफ़ करने की मांग की है ।बैठक की अध्यक्षता नाथ बिहारी यादव एवं संचालन नन्द किशोर यादव ने किया इस बैठक में मुख्य रूप से किसान सभा जिला अध्यक्ष गणेश प्रसाद सुमन , बिपिन कुमार,विजय कुमार, विनय कुमार, महेंद्र नाथ सिंह, बनारसी यादव , अरुण कुमार, डोमि पासवान, रणवीर कुमार, सीता राम हितेसी, पीताम्बर राम, सैयद हेलाल असरफ, पिंटू शर्मा, राजेश कुमार, जुगत लाल यादव, श्याम किशोर कुमार, गुंजन देवी, कुशेश्वर प्रसाद यादव, जवाहर कुमार मेहता, सुभाष प्रसाद मोदी , कुसेश्वर प्रसाद मोदी, आदि ने भी बैठक को संबोधित करते हुए एक सुर में संगठन के विस्तार एवं संघर्ष तेज करने का आह्वान किया ।

Loading...