सहरसा: गुड्डू से गुंडे मांग रहे हैं 5 लाख की रंगदारी, सियासी रसूख सुशासन पर भारी

गौतम कुमार/सहरसा

सहरसा/बिहार:  सहरसा में अपनी खरीदी हुई जमीन पर घर बनाने के लिए उमर हयात उर्फ गुड्डू को थाने से लेकर अफसरों के चक्कर लगाने पड़ रहे हैं। लेकिन इलके के दबंगों की तरफ से उससे जमीन पर घर बनाने से पहले पांच लाख की रंगदारी की मांग की जा रही है। गुड्डू के पिता ने 3 जून 2017 को सहरसा में 3 जून 2017 को मुमताज हुसैन, पिता स्व. शैय्यद मो. हुसैन पूरी लिखा पढ़ी के साथ जमीन खरीदी गई। शांति पूर्वक हुआ जमीन का ये सौदा इलाके के दबंगों  को रास नहीं आया। और गुड्डू से पांच लाख की रंगदारी की मांग की जाने लगी। साथ ही ये धमकी भी दी गई कि अगर पैसे नहीं दिये गए तो जान से मार देंगे।

इस धमकी के खिलाफ गुड्ड़ू ने मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी के न्यायालय में मीर टोला वार्ड नं 7 के निवासी मो. अनवार आलम, मो. अंजार आलम, मो. सरफराज आलम पर नालसी वाद संख्या 1457/2017 के तहत केस दायर कर जान से मारने की धमकी देने व रंगदारी मांगने का आरोप लगाया है। गुड्डू का ये भी आरोप है कि पुलिस उनके खिलाफ किसी तरह की शिकायत दर्ज नहीं करती। बताया ये भी जा रहा है कि आरोपियों की पहुंच बड़े राजनीतिक शख्सियतों तक भी है।

क्या है पूरा मामला?

उन्होंने कहा कि जुलाई 2017 को जब उक्त जमीन पर मिट्टी भराई का काम करवाया जा रहा था तो वे जमीन पर आकर अवरोध उत्पन्न करने की कोशिश कर रहे थे। इसको लेकर अनुमंडल दण्डाधिकारी न्यायालय में सनहा आवेदन दिया गया। इसके बाद भी जब अभियुक्तों की तरफ से परेशान किया जाने लगा तो न्यायालय में भी सनहा आवेदन दायर करवाया गया। उन्होंने कहा कि 13 दिसम्बर 2017 को  जमीन पर घर बनाने के लिए गए तो आरोपी हथियार दिखाकर धमकी देते हुए कहने लगे तुमसे जमीन पर घर बनाने को 5 लाख रुपए मांगे थे बिना रुपया दिए “तुम कैसे जमीन पर  काम करने पहुंच गए

मो. अनवार आलम ने मो.अंजार आलम व मो. सरफराज आलम से कहा कि ‘इसे जान से मार कर खत्म कर दो।’ जिसके बाद सभी मेरे (गुड्डू) साथ मारपीट शुरू करने लगे। इसी दौरान मो.अंजार आलम मेरे कनपट्टी में पिस्टल सटाते हुए मेरे गले से सोने की चेन छी ली और मो. सरफराज आलम ने मेरे हाथ से घड़ी छीन ली, तथा जमीन के कागजात की कॉपी फाड़ दिये। वहीं मो.अनवार आलम मेरे पॉकेट से दो हजार रुपए निकाल कर बोला कि “यह रंगदारी का पहला किस्त है। अगर पांच लाख रुपया एक सप्ताह के बीच नहीं पंहुचा तो जान से मार कर खत्म कर देंगे। गुड्डू के मुताबिक इसकी शिकायत करने जब वो थाने पहु्ंचा तो थाने में उसकी शिकायत दर्ज करने से इनकार कर दिया गया।इसके बाद गुड्डू ने मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी के न्यायालय में उनके विरुद्ध नालसी वाद संख्या 1457/2017 केस दायर किया गया।

Loading...