सहरसा: दहेज में 2 लाख नहीं देने पर जला दी गई दुल्हन, ससुराल वाले फरार

गौतम कुमार/सहरसा
सहरसा/बिहार:  दहेज़ कुप्रथा खत्म होने का नाम नहीं ले रही। दहेज़ की वजह से कई नवविवाहित महिला की जान जा रही है। सहरसा में बुधवार को हुई दुर्गा की हत्या की वजह भी दहेज़ ही बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि ससुराल पक्ष द्वारा 2 लाख की मांग की गयी थी। पति ,सास ,ससुर,देवर ,ननद को लड़की पक्ष द्वारा आरोपित करते हुए केश दर्ज किया गया। पुलिस गिरफ़्तारी को लेकर छानबीन कर रही है।
लड़की के पिता अरुण कुमार साह भागलपुर के खिरकी निवासी ने बताया कि शादी के वक़्त 3 लाख का जेवर और 4 लाख नगद समेत कई अन्य सामान उपहार स्वरूप दिया गया था। लेकिन और 2 लाख का दवाब उसपर बनाया जा रहा था।
घटना के सम्बन्ध में अरुण कुमार साह ने बताया कि होली के दिन दुर्गा के साथ 2 लाख की मांग के लिए मारपीट की गई। जिसके बाद उन्होंने दामाद गौतम कुमार और समधी देवनारायण साह से बात भी की । लेकिन उन्होंने धमकी दी की पैसा नहीं मिला तो अंजाम बुरा होगा। जिसके बाद 6 मार्च को उन्हें फोन आया की बेटी को जलाकर मार दिया गया है। और शव के साथ फरार हो गए। बाद में पुलिस ने शव बरामद कर पोस्टमार्टम कराने के लिए भेज दिया है। दुर्गा का तीन वर्ष का एक बेटा भी है जो हमेशा अपनी मां को खोज रहा है।
क्या कहते हैं थानाध्यक्ष
सहरसा सदर थाना अध्यक्ष आर के साह ने बताया आरोपियों की गिरफतारी के लिए छापेमारी की जा रही है। वरीय अधीक्षक के आदेश से आरोपियों की गिरफ़्तारी होगी।
Loading...