सहरसा: रक्त दान के लिए जागरूक आजाद युवा मंच

गौतम कुमार/सहरसा
सहरसा/बिहार:  रक्त दान महा दान आज की सबसे महत्वपूर्ण और सुन्दर स्लोगन है।जिससे किसी जरूरतमंद की मदद होती है। आये दिन रासायनिक माहौल के वजह से  बीमारियां बढ़ती जा रही है और अगर कोई इलाज करवाने जाये, तो डॉक्टर द्वारा खून की कमी बताई जाती है। कई मामले ऐसे भी होते हैं जिसमें वक्त पर सही ब्लड ग्रुप का रक्त नहीं मिलने की वजह से मरीज की मौत हो जाती है।
इसी जरुरत को लेकर सहरसा के आज़ाद युवा विचार के तरफ से पहल किया गया है।मानवता के इस महान कार्य में अपना योगदान दे रहे है।अगर किसी व्यक्ति को रक्त की ज्यादा जरुरी हो तो इनके द्वारा रक्त दान कर साथ निभाया जाता है।खुद रक्त दान कर दुसरो को भी जागरूक करते है ।जगह जगह जाकर रक्त दान के लिए लोगो को जागरूक करते है ।
आजाद मंच के मनीष कुमार ठाकुर एवं बंसी पाठक का कहना है कि हमे तब समझ आता है है कि रक्त दान जरूरी है जब हमारा कोई अपना खून के लिए जिंदगी और मौत के बीच जूझता है। उस वक्त हम नींदसे जागते हैं और उसे बचाने के लिए खून के इंतजाम की जद्दोजहद करते हैं।अनायास दुर्घटना या बीमारी का शिकार हममें से कोई भी हो सकता है। आज हम सभी शिक्षित व सभ्य समाज के नागरिक है ।तो क्यों नहीं हम रक्तदान के इस महान कार्य में अपना योगदान करें और लोगों को जीवनदान दें।
Loading...