सहरसा: एक तरफ परशुराम जयंती दूसरी तरफ हो रहा था रक्तदान

गौतम कुमार/सहरसा
सहरसा/बिहार:  एक तरफ शहर में भगवान परशुराम की शोभायात्रा निकाली जा रही थी तो दूसरी तरफ एक गर्भवती महिला दर्द से अस्पताल में परेशान थी। जिसे डॉक्टर द्वारा खून चढ़वाने की बात कही गयी थी। शोभायात्रा के अंतिम चरण में आजाद युवा विचार मंच के सदस्य को इस बात की खबर पहुंची, जिसके बाद आज़ाद युवा विचार मंच द्वारा रक्त दान की व्यवस्था की गयी।

शोभा यात्रा के अंतिम चरण में आजाद युवा विचार मंच के सदस्य के पास फ़ोन आया की कायस्थ टोला निवासी राजेश कुमार सिंह की गर्भवती पत्नी अदिति आर्या अस्पताल में भर्ती हैं। उन्हें  इमरजेंसी 1 यूनिट  बी पॉजिटिव ब्लड की जरूरत है। जिसके लिए  रितेश कुमार आगे आ कर ब्लड बैंक में खून दान कर ही रहे थे कि अचानक फिर पता चला की बनगांव के अमरनाथ  ठाकुर जो गंभीर अवस्था में सदर अस्पताल में भर्ती हैं और उन्हें ए पॉजिटिव ब्लड की आवश्यक्ता है। जिसके लिए कुंदन कुमार द्वारा रक्त दान किया गया।

जिसके बाद  सौरबाजार निवासी चन्दन कुमार की पत्नी नीतू कुमारी को भी डिलीवरी के लिए डॉक्टर द्वारा खून के लिये कहा गया और आज़ाद युवा विचार मंच द्वारा बी नेगेटिव ब्लड की व्यवस्था करवाई गयी।

Loading...