सहरसा: भारत बंद पर दुकानों में लटके ताले, केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन

गौतम कुमार/सहरसा

सहरसा/बिहार:  नए वित्त वर्ष के पहले सोमवार को देशभर के बाजारों में ताले लटक गए। सुप्रीम कोर्ट की तरफ से एससी/एसटी एक्ट में आए फैसले के खिलाफ तकरीबन तमाम विपक्षी दलों ने 2 अप्रैल को भारत बंद बुलाया था। जिसका असर सहरसा में भी देखा गया। बंद समर्थक सुबह से सड़कों पर नजर आने लगे थे। जिन्होंन हाथों में तख्ती ले रखी थी। जिसपर केंद्र सरकार विरोधी नारे लिखे गए थे।

अनुसूचित जाति व अनुसूचित जन जाति युवा संघर्ष मोर्चा द्वारा अनुसूचित जाति व जनजाति आत्याचार निवारण अधिनियम 1989 में माननीय सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिये गए फैसले के खिलाफ भारत बंद बुलाया गया। चोरों तरफ भारत बंद के नारे लगे। कही महिलाओं द्वारा जाम किया गया था तो कहीं भारी संख्या में पुरुषों द्वारा टायर जलाया जा रहा था।

राजद कार्यकर्ताओ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ जम कर नारेबाजी की। उनका कहना था कि जब तक आरक्षण से छेड़छाड़ बन्द नहीं किया जायेगा तब तक हमलोग विरोध करेंगे।48 घंटे के लिए बाजार बंद रहेगा।

Loading...