पूर्णिया के इन तीन पंचायतों तक केवल नाव से ही पहुंच सकते हैं,सड़क का इंतजार हो रहा है

पूर्णिया के इन तीन पंचायतों तक केवल नाव से ही पहुंच सकते हैं,सड़क का इंतजार हो रहा है

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार: बायसी प्रखंड क्षेत्र के खूटीया पंचायत के खूटिया ग्राम व ताराबाड़ी पंचायत के ताराबाडी, लोटियाबाड़ी, बायसी पंचायत के हाथीबंधा के लोगों को आजादी के सात दशक बाद भी एक अदद सड़क व पुल की सुविधा नसीब नहीं हुई है। इन पंचायत के लोगों के आवागमन का एकमात्र जरिया नाव ही है। तीनों पंचायतों के ग्रामीण पुल, पुलिया व सड़क मार्ग से वंचित हैं। खूटिया पंचायत के मो शकील अहमद, फकरे आलम का कहना है कि इलाके में पुल पुलिया व सड़क नहीं रहने से मूलभूत सुविधाओं से वंचित होना पड़ रहा है।

ग्रामीणों का कहा है हमलोगों को आने जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। कई बार जनप्रतिनिधि चुनावी मौसम में सड़क व पुल निर्माण का आश्वासन तो देते हैं लेकिन चुनाव के बाद वे दोबारा लौटकर नहीं आते हैं। जिससे क्षेत्र के लोगों को सिर्फ आश्वासन के भरोसा ही जीना पड़ रहा है। ग्रामीण मीनहाज आलम कहते हैं कि बारिश के समय तो यह पूरा इलाका टापू में तब्दील हो जाता है और इन पंचायत के लोगों को अपनी लड़कियों की शादी कराने में भी मशक्कत करनी पड़ती है। क्योंकि आवागमन की सुविधा नहीं रहने के कारण कोई भी इन पंचायत में रिश्ता करना नहीं चाहता है।

ताराबाड़ी पंचायत के अशोक यादव, फर्जून यादव का कहना है कि इस पंचायत में भी पुल पुलिया व सड़क की सुविधा नहीं है और नाव के सहारे वे हाट बाजार को जाते हैं। उस वक्त स्थिति और भी विकट हो जाती है जब कोई बीमार पड़ जाता है और उन्हें अस्पताल ले जाने की नौबत आन पड़ती है। इस पंचायत में लोगों को आने जाने के लिए बस नाव ही एक सहारा है।

बायसी पंचायत के हाथीबंधा ग्राम जाने के लिए लोगों को बरसात के मौसम में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। मुखिया मतिउर रहमान कहते हैं कि पुल की सुविधा नहीं रहने के कारण यहां लोग काफी परेशान रहते हैं। लोग बार बार जान जोखिम में डालकर नाव की सवारी करते हैं। जिससे उनके बीच उहापोह की स्थिति बनी रहती है।

हाथीबंधा के मौलाना खलीलूर रहमान, मो पप्पू, खूटिया के मो मोबीन, मो जवादुल, मो फिरोज आलम, शकील अहमद, ताराबाड़ी पंचायत के मो फिरोज, मो मोहसीन, अशोक यादव ने सूबाई सरकार व स्थानीय जिला प्रशासन से पूरे इलाके में सड़क व पुल पुलिया निर्माण की मांग की है ताकि वे भी सामान्य जिंदगी जी सके।

बयासी के एसडीओ सावन कुमार ने कहा पिछले साल बाढ़ में ध्वस्त हुई सड़क व पुल का निर्माण कार्य जल्द ही शुरू किया जाएगा। इसके लिए रिपोर्ट प्राप्त कर ली गई है और जल्द ही इस दिशा में कवायद तेज कर दी जाएगी।

Loading...