पूर्णिया: 10वीं बोर्ड के गणित परीक्षा ने शहर की सूरत ही बिगाड़ दी

नीरज झा/पूर्णिया
पूर्णिया/बिहार:  मैट्रिक परीक्षा के चौथे दिन शनिवार को दोनों पालियों में गणित के प्रश्नपत्र में सिलेबस से बाहर के प्रश्न पूछे जाने से आक्रोशित परीक्षार्थियों ने सोमवार को शहर के सदर अस्पताल के मुख्य गेट (लाइन बाजार) पर दोपहर 12ः30 बजे से तीन घंटे तक सड़क जामकर प्रदर्शन किया। परीक्षार्थियों का कहना था कि परीक्षा रद्द की जाए। अचानक छात्रों की भीड़ उग्र हो गयी और हंगामा बढ़ने लगा। छात्रों ने मुख्य मार्ग से जाने वाली सभी छोटी बड़ी गाड़ियों को रोक दिया।
छात्रों ने सड़क पर लगातार टायर जला कर आगजनी करते रहे। प्रदर्शन के दौरान छात्र लगातार नीतीश कुमार, शिक्षा मंत्री मुर्दाबाद के नारे लगा रहे थे। तीन घंटे तक शहर में अफरा-तफरी मची रही। छात्रों ने एंबुलेंस को भी नहीं बख्शा और करीब 15 मिनट तक रोक लिया। वही सदर अस्पताल के गेट पर खड़ी एंबुलेंस BR11 PA 1096 का शीशा तोड़ दिया। एसडीओ डॉ रविन्द्रनाथ प्रसाद सिंह व डीएसपी राजकुमार साह छात्रों को समझाने का प्रयास करते रहे लेकिन छात्र नहीं माने। वहीं मौके पर खजांची, के.हाट, महिला थाना के थानाध्यक्ष उपस्थित थे।
वाहन चालकों से भी की मारपीट
छात्रों ने प्रदर्शन के दौरान वाहनों को जबरन रोका और इस क्रम में एंबुलेंस के शीशे के साथ एंबुलेंस कर्मी से मारपीट भी की। छात्रों के उग्र प्रदर्शन को देखते हुए कोई कुछ भी बोलने को तैयार नहीं था। पुलिस के पहुंचने पर भी छात्र हंगामा करते रहे। छात्र शिक्षा मंत्री व बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के विरुद्ध नारेबाजी कर रहे थे। पुलिस अधिकारी उनसे मांगों के बाबत लिखित आवेदन देने का अनुरोध करते रहे, लेकिन छात्र सुनने को तैयार नहीं थे।
छात्रों की मुख्य मांग
डीएम मौके पर खुद आएं और बात करें, छात्रों की चेकिंग सही ढंग से नहीं होती है, घड़ी ना रहने से समय का पता नहीं चलता, ऑबजेक्टिव प्रश्न सही नहीं हैं, कॉपी समय से पहले छीन ली जाती है।
नीतीश कुमार हल करे प्रश्न
गणित के प्रश्न पत्र को लेकर छात्रों ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गणित का प्रश्न पत्र हल कर के दिखाएं। वो नहीं चाहते हैं कि बिहार के छात्र अच्छी नौकरी करें। उनकी कोशिश है कि यहां के छात्र मजदूर बनें।
प्रश्नपत्र में न पैटर्न का ख्याल रखा और न ही सिलेबस का
गणित के प्रश्नपत्र में न तो पैटर्न का ख्याल रखा गया और न ही सिलेबस का। कई सवाल सिलेबस से बाहर के हैं। द्वितीय पाली की परीक्षा प्रश्नपत्र में प्रश्न संख्या 14, 19, 34, 36 व 39 को सिलेबस से बाहर का बताया। सब्जेक्टिव प्रश्नों में प्रश्न संख्या 06, 12, 14, 15 व 24 सिलेबस से बाहर के हैं। ऑब्जेक्टिव प्रश्न संख्या 24 के सभी ऑप्शन गलत हैं। पंचम कुमार साह, शिक्षक, सक्सेस ट्यूशन सेंटर
अगले पेज पर जाने के लिए नीचे स्क्रॉल करें
Loading...