पूर्णिया: सत्संग में कुछ बेहतर सोच और सीख लेकर वापस जाएं-मेयर

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार:  डुमरिया धमदाहा में दो दिवसीय विराट वार्षिक संतमत सत्संग का उद्घाटन मेयर विभा कुमारी के द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस मौके पर मेयर ने सत्संग में आए सभी गणमान्य व्यक्तियों का धन्यवाद करते हुए कहा कि सत्संग अर्थात सत्य से साक्षात्कार अथवा सच्चे लोगों का संग संभवतः सत्संग का यही मतलब होता है। आज के भौतिकवादी युग में जब भाई भाई और पड़ोसी पड़ोसी के बीच ईष्या और द्वेष का भाव है। तो सत्संग की महत्ता और बढ़ जाती है।

उन्होंने आगे कहा हम यहां आए हैं तो कुछ बेहतर सोच और सीख लेकर वापस जाएं, यही सत्संग की सार्थकता होगी। प्राणी प्राणी के बीच प्यार और सदभाव हो यही सत्संग का मर्म होता है। इस झूठे अभिमान और मोह माया में पड़कर खुद का कितना अहित कर लेते हैं। यह जब पता चलता है तो काफी देर हो चुकी होती है।

आइये हम संकल्प लें कि झूठ, फरेब, हिंसा, द्वेष, नशापान से हटकर एक बेहतर समाज बनाने का संकल्प लें तब जाकर सत्संग में आने का फल सामने आएगा। इस मौके पर बालयोगी आशीष आनंद उर्फ बच्चा बाबा, अध्यक्ष दारोगी शर्मा, सरपंच सुमेला देवी, उपाध्यक्ष सुभाष भगत, अमित कुमार उर्फ बबलू भगत, इंद्रदेव यादव, भुवनेश्वर यादव, राजकुमार भगत, मंटू गुप्ता, अविनाश यादव, पिंटू यादव एवं समस्त श्रोतागण उपस्थित थे।

Loading...