10 वर्षों से गड्ढे में बदल चुकी है लालबाड़ी को एनएच 31 से जोड़ने वाली सड़क

10 वर्षों से गड्ढे में बदल चुकी है लालबाड़ी को एनएच 31 से जोड़ने वाली सड़क

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार:  पूर्णिया नगर निगम के बेलौरी स्थित वार्ड नंबर 44 और 46 के बॉर्डर पर लालबाड़ी तथा एनएच 31 को जोड़ने वाली ईंट सोलिंग जर्जर सड़क सड़क पिछले 10 सालों से उद्धारक की बाट जोह रही है। लेकिन अबतक लोगों को आश्वासन के सिवाय कुछ नहीं मिल पाया है। सड़क नहीं बनने किस्से यहां के ग्रामीण कुछ अलग ही अंदाज में बयां करते हैं।

सड़क के बारे में पूछने पर स्थानीय निवासी विनोद दास कहते हैं कि यह सड़क पिछले 10 साल से तीन-चार फीट के गड्ढे में तब्दील है पर इसे देखने वाला कोई नहीं है। यह सड़क बॉर्डर पर होने के कारण इसे वार्ड 44 के वार्ड पार्षद विश्वजीत सिंह कहते हैं कि यह सड़क वार्ड नंबर 46 में आती है और वार्ड नंबर 46 के वार्ड पार्षद फुलिया देवी कहती हैं कि यह सड़क वार्ड नंबर 44 में आती है।

कोई इस सड़क की जिम्मेवारी लेने को तैयार नहीं हैं। वहीं पूनम देवी कहती हैं कि उन लोगों को खाना खाना भी हराम हो जाता है क्योंकि ईट सोलिंग सड़क के ईट उखड़ जाने के कारण यह सड़क धूल से भरी रहती है। सुकरी देवी कहती हैं कि इस सड़क पर पिछले 10 सालों से सिर्फ आश्वासन ही मिल रहा है।

चुनाव के समय प्रतिनिधि अफसोस जताते हुए कहते हैं कि यह सड़क तो चलने लायक नहीं है अगर वह जीतेंगे तो सबसे पहले यही सड़क बनाएंगे लेकिन सड़क दिन-ब-दिन जानलेवा बनती जा रही है। साथ ही उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के दौरान सदर विधायक विजय खेमका ने काली मंदिर प्रांगण में गांव के कई लोगों के सामने आश्वासन दिया था कि उनके विधायक बनने पर सबसे पहले वह यही सड़क बनाएंगे लेकिन आजतक आश्वासन की पूर्ति नहीं हो सकी है।
क्या कहते हैं वार्ड नंबर 44 के पार्षद
वार्ड पार्षद विश्वजीत सिंह का कहना है यह सड़क वार्ड नंबर 46 के नक्शे से कटी हुई है लेकिन आम लोगों की समस्या को देखते हुए वह कई बार प्रयास किया है लेकिन सफलता नहीं मिल पाई है।

क्या कहते हैं सदर विधायक
सदर पूर्णिया के विधायक विजय खेमका ने कहा इस सड़क के लिए लोगों किए गए वायदे याद हैं और सड़क निर्माण के लिए प्रक्रिया की गई है और जल्द ही सड़क का निर्माण कार्य तेज कर दिया जाएगा।

Loading...