पूर्णिया: नीतीश सरकार यात्राओं के नाम पर अपनी छवि चमकाना चाहती है: नवीन

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/कसबा/बिहार:  जिला राजद महासचिव नवीन कुमार यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री को अपनी यात्रा के दौरान नई योजना और कार्य का शिलान्यास करने के बजाए यह स्पष्ट करना चाहिए कि 2009 और उसके पूर्व की उनकी विभिन्न यात्राओं के दौरान जिन योजनाओं का शिलान्यास किया गया था क्या वे पूरी हो गई है या नहीं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सृजन सहित कई अन्य घोटालों के उजागर होने के मद्देनजर मुख्यमंत्री को प्रदेश के उपमुख्यमंत्री सह वित्तमंत्री सुशील कुमार मोदी को अपने साथ यात्रा में ले जाना चाहिए था और संबंधित जिलों में कोषागार में मौजूद राशि की जांच करनी चाहिए।

उन्होंने नीतीश कुमार पर अपनी छवि चमकाने के लिए सरकारी धन का खर्च यात्राओं पर करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें यह बताना चाहिए कि उनकी इस विकास समीक्षा यात्रा पर कितना सरकारी धन खर्च हुआ। उन्होंने कहा कि अपने को विकास पुरुष के तौर पर पेश करने वाले नीतीश कुमार के कार्यकाल के दौरान अगर विकास हुआ है तो वे पूर्व की भांति प्रत्येक वर्ष जारी किए जाने वाले अपने रिपोर्ट कार्ड को अबतक क्यों जारी नहीं कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि वे चुनौती के साथ कहते हैं कि जितना विकास उन्होंने 18 महीने में प्रदेश की पिछली महागठबंधन सरकार के कार्यकाल के दौरान किया उतना वे बाकी 3 साल में भी नहीं कर सकते। उल्लेखनीय है कि राजद प्रमुख लालू प्रसाद के रेल मंत्रित्व काल में रेलवे में हुए टेंडर घोटाला मामले में सीबीआई के प्राथमिकी दर्ज किए जाने के बाद जनता के बीच स्पष्टीकरण दिए जाने की मांग करती रही है। राजद द्वारा इस मांग को ठुकरा दिए जाने पर गत जुलाई महीने में नीतीश कुमार ने प्रदेश की पिछली महागठबंधन सरकार में शामिल राजद और कांग्रेस ने नाता तोड़कर भाजपा के साथ मिलकर प्रदेश में राजग की सरकार बनाई थी।

Loading...