पूर्णिया:छह माह के अंदर शहर के सभी चौक चौराहे पर तैयार होगा सार्वजनिक शौचालय 

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया
पूर्णिया/बिहार :पूर्णिया शहर को खुले में शौच से मुक्त कराने की कवायद ने गति पकड़ ली है। 03 अगस्त को क्वालिटी काउंसिल ऑफ इंडिया की टीम के सर्वे के बाद हरकत में आए निगम पदाधिकारियों ने इस दिशा में कार्रवाई तेज कर दी है। शहर को ओडीएफ घोषित करने के लिए 4000 लाभुकों को जहां शौचालय निर्माण की द्वितीय किश्त की राशि दी जाएगी वहीं दूसरी ओर शहरी क्षेत्र में बनने वाले सार्वजनिक शौचालय का भी रास्ता साफ हो गया है।

पहले चरण में शहर के पांच जगहों पर सरकारी जमीन पर सार्वजनिक शौचालय का निर्माण किया जाएगा। बता दें कि पूर्व में बोर्ड बैठक में निवर्तमान मेयर विभा कुमारी व सभी पार्षदों के द्वारा सर्वसम्मति से शहरी क्षेत्र में 56 जगहों पर सार्वजनिक शौचालय निर्माण पर सहमति जताई गई थी। जिसके बाद कागजी कार्रवाई भी पूरी कर ली गई है।

हालांकि शहरी क्षेत्र के कई ऐसे लाभुक भी हैं जिन्हें तकनीकी कारणों से शौचालय निर्माण मद की राशि नहीं मिल पाई है। दरअसल स्वच्छ भारत मिशन के तहत हो रहे शौचालय निर्माण को लेकर सभी लाभुकों को आवंटित राशि से दो चरणों में शौचालय का निर्माण करना है। साथ ही निगम कर्मी द्वारा स्थलीय निरीक्षण भी किया जाता है लेकिन इस दौरान होने वाली फोटोग्राफी में गड़बड़ी के कारण कई लाभुकों की फाइल अबतक पूरी तरह से तैयार नहीं हो पाई है। इसका सीधा असर उन्हें मिलने वाली राशि पर पड़ रहा है।

…एडीएम कार्यालय से मिल गया है एनओसी : 

सार्वजनिक शौचालय निर्माण के लिए नगर निगम को एडीएम कार्यालय से एनओसी यानी नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट मिल गया है। जिसके बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि जल्द ही शहरी क्षेत्र में सार्वजनिक शौचालय का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। इस संबंध में नगर आयुक्त विजय कुमार सिंह ने बताया कि डूडा के कार्यपालक अभियंता को फाइल भेजी जा चुकी है। जिसके बाद अनुमोदन मिलते ही कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी। बता दें कि सार्वजनिक शौचालय के निर्माण काे ले जिले में ही लॉटरी कराई जाएगी और टेंडर प्रक्रिया फाइनल होते ही निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

Loading...

Leave a Reply