पूर्णिया: छात्र संघ चुनाव तो बहाना है नीतीश, लालू को घेरना मकसद है

नीरज झा/पूर्णिया
पूर्णिया/बिहार:  छात्र संघ चुनाव को लेकर गुरुवार को स्थानीय कार्यालय अर्जुन भवन में गुरूवार को परिचर्चा आयोजित की गई थी। सांसद पप्पू यादव छात्र संघ चुनाव के बहाने सभी राजनीति दल पर जम के बरसे। जाप संरक्षक व सांसद यादव ने कहा कि आज तक सभी राजनीतिक दल ने जनता को लूटने का काम किया है। वहीं जनता के बीच में जातिवाद का जहर घोल दिया गया है। जनता भी इससे निकल नहीं पा रही है।
उन्होंने कहा आज अगर कोई राजनेता किसी जुर्म में फंस जाता है तो पहले उसका जात देखा जाता है। फिर उस हिसाब से राजनीतिक दल उस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हैं। विकास की बात कोई नहीं करता। आज लाखों छात्र बेरोजगार है। इसको लेकर कोई राजनीति नहीं करता। सरकार पहले नौकरी की व्यवस्था करे, फिर डिग्री देने का काम करे। स्कूलों में पढ़ाई नहीं होती है। शिक्षकों को पढ़ाने के अलावा अन्य कामों में लगाया जाता है। जिससे गुणवत्तापूर्ण शिक्षा नहीं मिल पाती है और बच्चे परीक्षा में फेल हो जाते हैं।
मैं भी नकल के खिलाफ हूं लेकिन पहले पढ़ाई की व्यवस्था में सुधार हो ताकि बच्चे पढ़ कर आसानी से अपनी हर परीक्षा में पास हो। वहीं बिहार सरकार से सवाल पूछते हुए कहा कि बिहार में पलायान अभी तक नहीं रुकी है। इसका क्या कारण है? मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इसका जबाव देना चाहिए। वो लगातार तीसरी बार  मुख्यमंत्री बने हैं अभी तक एक भी फैक्ट्री क्यों नहीं लगी। पूर्णिया में जो भी फैक्ट्री थी  आज वो बंद पड़ी है।  इसमें काम करने वाले लोग आज बेरोजगार है। कोई नेता नहीं पूछने जाता है। उनके बच्चे किस हाल में कोई नहीं जानता। बस सभी लोग अपनी नेतागीरी चमकाने में लगे हुए है। जनता मरती रहती है लेकिन नेताओं की नेताागिरी बंद नही होती। वहीं राजद परिवार नें भी बिहार में 17 साल शासन किया। क्या दे दिया बिहार को। बालू माफिया का राज हो गया है।आखिर किसके पास जाता है बालू माफिया का पैसा।
कन्हैया कुमार को बिमार पिता के पास जाने की फुरसत नहीं
सांसद पप्पू यादव ने गुरुवार को छात्र नेता कन्हैया कुमार पर भी जम करे बरसे। कन्हैया को पिता की चिंता नहीं है। वो पहले लालू यादव व नीतीश कुमार जी के पास जाता है। जिसको पिता की चिंता नहीं उसको दोनों भाईयों ने सर आंखों पर बिठा लिया। पिता की मौत की खबर के बाद भी कन्हैया से पहले मैं वहां पहुंचा।
Loading...