पूर्णिया: अज्ञात शव की पहचान हुई, पति-पत्नी के झगड़े में कत्ल का आरोप

नीरज झा/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार:  मकई खेत से अज्ञात लाश मिलने की बात पिछले दिनों पूर्णिया में सामने आई थी।।जानकारी के लिए बता दें कि सोमवार को लाश मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी। लाश की शिनाख्त शुक्रवार को मृतक के परिजनों  द्वारा की गई । मृतक युवक  घूरण रिक्यासन था जिसकी उम्र 32 वर्ष थी। वो गांव मुसहरी पट्टी , ननियापट्टी वार्ड नंबर 20 थाना नौगछिया भागलपुर का रहनेवाला था।  मृतक की मां ने बताया कि घूरण 24 फरवरी को अपने घर से पत्नी को मायके से लाने की बात कह कर अपने ससुराल गया  था। लेकिन 6 मार्च को मेरी बहू रेशमी देवी ने मुझे फोन कर जानकारी  दी कि वह घूरण को बस पर चढा़कर घर भेज दी है।

वहीं मृतक की मां रंभा देवी ने कहा कि अभी तक तो घर  पहुंचा नहीं  है। रात भर अपने बेटे के पहुंचने का इंतजार भी  किया। लेकिन सुबह तक नहीं पहुंचने केे बाद  घर वाले किसी अनहोनी शंका से परेशान हो गए और खोजबीन शुरू कर दी। लेकिन किसी भी प्रकार का अता पता नहीं चल पा रहा था। जब घरवालों को शक की सुई ससुराल वालों की तरफ घूमी। जिसके बाद वह गुरूवार को अपने परिवार और गांव के कुछ लोगों को लेकर पूर्णियां जिले के चंदवा मीरगंज  अपने बेटे के ससुराल पहुंच गए और सुसराल वाले पर युवक के बारे मे जानकारी के लिए  दबाव बनाने लगे।

उस समय भी मृतक की पत्नी रेशमी देवी  अपने मायके में नहीं मिली। मृतक का साला उन सभी को लेकर काझा मुसहरी मृतक के रिश्ते में साढू के यहाँ पहुंचे तो वहां मृतक कि पत्नी मिली। जब घूरण के परिवार द्वारा  अपने बेटे के बारे  में जानकारी मागीं  तो कुछ ठोस जानकारी हाथ नही लगी। पूछताछ के  क्रम में  ही पता चला कि एक अज्ञात लाश सोमवार को केनगर पुलिस को मिली है।

जिसके बाद सभी लोग केनगर थाना पहंचे तो पुलिस द्वारा घटना स्थल से प्राप्त गमछा और चप्पल को देखकर कुछ कुछ पहचान हो रही थी ।  जब पुलिस द्वारा शव का फोटो दिखाया गया  तो पता चला कि यह शव घूरण रिक्यासन का है। शव की पहचान परिजनों द्वारा करने पर   केनगर पुलिस और केनगर बीडीओ राकेश कुमार ठाकुर के उपस्थिति  में गड्ढे में  गडे हुए शव को निकाला गया।  शव को गड्ढे से निकालतेे  ही कपड़े और एक पैर के विंकलांग होने कि वजह से घूरण के शव होने कि पुष्टी हो गई। मृतक के  भाई द्वारा शव को मुखााग्नि  देकर केनगर के झौव्वाडी़ घाट पर अंतिम संस्कार कर दिया गया।

एक महीना पहले हुआ था पति पत्नी में झगड़ा 
मृतक युवक घूरण की मां ने ये भी बताया कि एक महीना पहले मेरी बहू रेशमी देवी द्वारा लडा़ई झगडा़ कर ससुराल  से अपने मायके आ गई थी। मृतक के परिजनों  के अनुसार वह विगत एक महीने से मायके में  रहते आ रही थी।  उसी झगड़े का बदला लेने के लिए मेरे बेटे की हत्या करवाई गई।
वहीं इस मामले को लेकर केनगर थानाध्यक्ष विजय कुमार यादव ने कहा कि फिलहाल पुलिस द्वारा जांच पड़ताल की जा रही है और मृतक के मां के द्वारा दिए गए  बयान को ध्यान में रखा गया है और जो भी इस हत्याकांड में  शामिल है उन पर सख्त से सख्त कार्रवाई की  जाएगी।जल्द ही इस हत्याकांड का खुलासा कर दिया जाएगा।
Loading...