पूर्णिया: अजमतुल्लाह की मजार पर की गई चादरपोशी

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/बायसी/बिहार:  बायसी प्रखंड के मीनापुर पंचायत के बाज बैरिया अजमतुल्लाह के मजार पर शनिवार को लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं ने चादरपोशी की और मन्नतें मांगी। सज्जादा नशीन पीर सैय्यद कयामुद्दीन हुसैनी अजमती ने बताया कि देश के विभिन्न राज्यों से हजारों की संख्या में श्रद्धालु यहां पहुंचे। नेपाल, बांग्लादेश, इराक से भी लोग पहुंचे। सादाते केराम खानकाहों से पीर सैय्यद अवैस मुस्तफा वास्ती, पीर सैय्यद बादशाह हुसैन, पीर सैय्यद हुसामुद्दीन के साथ कई लोगों ने शिरकत की और अजमतुल्लाह के मजार पर जाकर इलाके के लोगों के लिए अमन व चैन का दुआएं मांगी।

जदयू के वरिष्ठ नेता सैय्यद महमूद अशरफ ने कहा कि इस मजार की बहुत बड़ी आस्था है। यहां जो कोई भी आता है उनकी मुरादें जरूर पूरी होती है। उन्होंने कहा कि इस मजार की मान्यता कुछ ऐसी है कि यहां बीमार होकर लोग आते हैं और माथा टेकने के बाद स्वस्थ होकर वापस लौटते हैं। लिहाजा लोगों की इस मजार के प्रति काफी श्रद्धा है। जिस कारण इस मजार में लोग दूर दूर से चादरपोशी करने आते हैं।

पूर्व विधायक सैय्यद रूकनुद्दीन ने कहा कि इस दो दिवसीय उर्स के अवसर पर मेले का आयोजन किया जाता है। एनएच 31 से सात किलोमीटर बैरिया मजार तक ऑटो, बोलेरो, स्कार्पियो, मारुति, मैजिक, साईकल से सड़क दिन भर पटा रहा। बैरिया मजार जाने के लिए लोगों को कई घंटों तक कठिनाईयों का सामना करना पड़ा। अंततः लोगों ने कठिनाईयों का सामना करके भी मजार में जाकर चादरपोशी की। मेले में बहुत दूर दूर के दुकानदार यहां आकर अपनी दुकान सजा चुके हैं। इस मेले में हजारों की संख्या में लोग प्रतिदिन पहुंचते हैं आैर अपनी जरूरत की सामग्री की खरीदारी करते हैं।

हजारों की संख्या में दुकानदार मेले में पंक्तिबद्ध तरीके से दुकान सजा चुके हैं। दुकानों में बच्चों के लिए तरह तरह के खिलौने की दुकान, मिठाई की दुकान, मौत का कुआं, सर्कस देखने के लिए लगाए गए हैं। लोग सामान खरीदने के लिए भी इस मेले में पहुंचते हैं और लकड़ी के बने सामान मसलन चौकी, पलंग, कुर्सी, टेबल समेत अन्य सामान खरीदकर अपने घर तक ले जाते हैं।

दूसरी ओर इस मेले को लेकर प्रशासनिक व्यवस्था भी काफी चुस्त दुरूस्त की गई है। चप्पे चप्पे पर पुलिस बल की तैनाती की गई है। मेले को लगाने में सैयद अलाउद्धीन, सैयद जीयाउद्धीन, सैय्यद शमशुद्दीन, सैय्यद शमसाद एवं ग्रामीणों का भरपूर सहयोग रहा। इस मौके पर पहुंचे अनुमंडल पदाधिकारी सावन कुमार, प्रखंड विकास पदाधिकारी अकील अंजुम, अंचल पदाधिकारी संजीव कुमार त्रिवेदी ने हर पल के हालात का जायजा लिया।

Loading...