पूर्णिया:रूसा के सहयोग से एमएल आर्य कॉलेज बनेगा मॉडल

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार: राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान (रूसा) के द्वारा एमएल आर्य कॉलेज कसबा को एक मॉडल डिग्री कॉलेज के रूप में विकसित करने के लिए चयनित किया गया है। इसके लिए इस महाविद्यालय को भवन निर्माण रिपेयरिंग वर्क्स, प्रयोगशाला के उपकरण खरीद आदि के लिए चार करोड़ रुपए की राशि किस्तों में मिलेगी।

इस संबंध में महाविद्यालय के नोडल ऑफिसर डॉ एसपी यादव ने “रूसा” के उपाध्यक्ष डॉ कामेश्वर झा से दूरभाष पर हुई बातचीत का हवाला देते हुए कहा कि इसके लिए एमएल आर्य कॉलेज को ‘रूसा’ की वेबसाइट पर कुछ आवश्यक डॉक्यूमेंटस 20 जून तक निश्चित रूप से अपलोड करना होगा।

इन कागजातों में डीपीआर, भूमि स्वामित्व संबंधित पेपर्स, फैक्टरी पोजिशन (जो स्वीकृत पद का 61 प्रतिशत होना चाहिए) आदि शामिल है। रूसा की उपरोक्त शर्तो को पूरा करने पर अनुदान की यह राशि महाविद्यालय को प्राप्त होगी। जिससे इस कॉलेज का कायाकल्प हो सकेगा।

महाविद्यालय के प्रधानाचार्य डॉ मो कमाल तथा आईक्यूएसी के पूर्व समन्वयक डॉ केडी तांती ने बताया कि एमएल आर्य कॉलेज का अपग्रेडेशन के लिए जो चयन हुआ है इसके पीछे सबसे बड़ा कारण इसका’ नैक’ द्वारा “बी ” ग्रेड के रूप में मूल्याकंन होना है। जो 30 अक्टूबर 2017 को कॉलेज कर्मियों की लगन और अथक प्रयासों से संभव हो पाया था। किसी भी अंगीभूत कॉलेज को “रूसा” द्वारा चुना जाना ” नैक” द्वारा मूल्यांकित होना एक आवश्यक शर्त है।

(Visited 9 times, 1 visits today)
loading...