पूर्णिया:कनकई नदी की तेज धारा में समा रहे गांव, ग्रामीणों में भय का माहौल 

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार:बैसा प्रखंड के रायबेर पंचायत के तीन गांव हरिया, काशीबाड़ी, बरडीहा ग्राम में कनकई नदी का प्रकोप अभी से ही दिखने लगा है। नदी के किनारे तीव्र गति से कटाव जारी है और लोगों के बीच भय का माहौल बना हुआ है।

ग्रामीणों का कहना है कि वे वर्षों से कटाव के दंश को झेल रहे हैं लेकिन हरेक बार प्रशासनिक स्तर पर सिर्फ कटाव निरोधी कार्यों में खानापूर्ति ही की जा रही है। जबकि यह समस्या प्रतिवर्ष बनी रहती है। ग्रामीणों ने कहा कि जियो बैग लगाने में भी लापरवाही बरती जाती है। इस कटाव से उनकी बस्ती हरेक साल उजड़ जाती है।

उन्होंने कहा कि हमने अपनी आंखों के सामने एक नहीं कई बार तिनका तिनका जोड़कर बनाए आशियानों को नदी में समाते देखा है। उन्होंने कहा कि प्रशाननिक स्तर पर जो भी कार्य होते हैं वे अस्थाई होते हैं क्योंकि नदी की तेज धारा में प्रशासनिक कार्य टिक नहीं पाता है और कटाव निरोधक कार्य पूरी तरह से ध्वस्त हो जाता है। जिसके बाद उसका खामियाजा हमें भुगतना पड़ता है। उन्होंने कहा कि इस दिशा में ठाेस व सकारात्मक कार्य करने की दरकार है ताकि प्रतिवर्ष की समस्या से उन्हें निजात मिल सके।

(Visited 3 times, 1 visits today)
loading...