पूर्णिया:जैविक तरीके से किचन गार्डन लगाने के दिए टिप्स 

प्रियांशु आनंद/पूर्णिया

पूर्णिया/बिहार : कृषि कल्याण अभियान के तहत तीन दिवसीय किचन गार्डन प्रशिक्षण शिविर का आयोजन कृषि विज्ञान केंद्र जलालगढ़ में आयोजित किया गया। जिसमें सरोचिया, डेहरी, धत्ताघाट, टीकापुर, विजुलिया के कृषक महिलाएं एवं पुरुषों ने हिस्सा लिया और किचन गार्डन के गुर सीखे।

इस मौके पर कृषि विज्ञान केंद के वरीय वैज्ञानिक सह प्रधान डॉ सीमा कुमारी ने कृषकों को पोषक एवं सब्जी पौधे में बीमारी एवं कीट निवारण पर जैविक तरीकों को अपनाने पर बल दिया। वहीं केंद्र के उद्यान वैज्ञानिक अभिषेक प्रताप सिंह ने कहा कि आधुनिक जीवनशैली में हम सभी पोषणयुक्त भोजन से दूर होते जा रहे हैं। जिसे हम किचन गार्डन लगाकर ही पूर्ति कर सकते हैं।

उन्होंने बताया कि एक व्यक्ति को 24 घंटे में 300 ग्राम सब्जी का सेवन करना चाहिए। जिसमें 115 ग्राम हरी पत्तेदार सब्जी, 115 ग्राम जड़ वाली तथा 70 ग्राम दोनों को मिलाकर सेवन करना चाहिए। लेकिन हम जो भी सब्जी का सेवन करते हैं वह बाजार पर निर्भरता होने के कारण उसमें गुणवक्ता की कमी के साथ साथ कीट व फफूंद नाशी दवाओं का प्रयोग होने के कारण स्वास्थ्य पर काफी नुकसान होता जा रहा है।

इसके बचाव के लिए किचन गार्डन लगाने की विस्तारपूर्वक जानकारी दी। केंद्र के प्रोग्राम सहायक अजित कुमार ने भी किसानों को जैविक खाद का प्रयोग करने पर बल दिया। मौके पर पशुपालन वैज्ञानिक हेमंत कुमार ने भी किसानों को पशुपालन संबंधित जानकारी दी। इस मौके पर किसान इरफान आलम, मनीष कुमार, संतोष कुमार के साथ साथ अन्य किसान भी मौजूद थे।

Loading...